राजनाथ सिंह का बड़ा ऐलान, 101 रक्षा उत्‍पादों के आयात पर लगेगी रोक

नई दिल्ली : रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को रक्षा क्षेत्र से जुड़े कुछ अहम ऐलान करते हुए बताया कि रक्षा मंत्रालय ‘आत्मनिर्भर भारत’ की ओर कदम बढ़ा रहा है, जिसके तहत रक्षा उत्‍पादन के स्‍वदेशीकरण को बढ़ावा देने के लिए 101 रक्षा उत्‍पादों के आयात पर प्रतिबंध लगाया जाएगा और इन्‍हें स्‍वदेशी स्‍तर पर बनाया जाएगा। साथ ही उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 5 स्तंभों अर्थव्यवस्था, इंफ्रास्ट्रक्चर, प्रणाली, जनसांख्यिकी और मांग के आधार पर आत्मनिर्भर भारत के लिए स्पष्ट आह्वान किया है। इसके लिए प्रधानमंत्री ने आत्मनिर्भर भारत के नाम से एक विशेष आर्थिक पैकेज की घोषणा भी की है।
कई दौर के परामर्श के बाद तैयार की गयी सूची
राजनाथ सिंह के अनुसार, ‘रक्षा मंत्रालय ने यह सूची सशस्त्र बलों, सार्वजनिक और निजी उद्योग सहित सभी हितधारकों के साथ कई दौर के परामर्श के बाद तैयार की है। इस दौरान भारतीय उद्योग की वर्तमान और भविष्य की क्षमताओं का आकलन भी किया गया।’ उन्होंने यह भी बताया कि देश के तीनों सेनाओं ने 260 योजनाओं के तहत इन सामानों का अप्रैल 2015 से अगस्त 2020 के बीच 3.5 लाख करोड़ रुपए का ठेका दिया। रक्षा मंत्री ने कहा कि अगले 6-7 साल में घरेलू उद्योग को करीब 4 लाख करोड़ रुपए के ठेके मिलेंगे। रक्षा मंत्री के अनुसार, अगले 6 से 7 साल में इनमें से लगभग 1,30,000 करोड़ रुपये के उत्‍पाद सेना और वायुसेना के लिए अनुमानित हैं, जबकि नौसेना की ओर से लगभग 1,40,000 करोड़ रुपये उत्‍पादों का अनुमान जताया गया है।
आयात पर बैन 2020 से 2024 के बीच लागू किया जाएगा
राजनाथ सिंह ने कहा कि ‘आयात पर बैन को 2020 से लेकर 2024 के बीच लागू करने की योजना है। हमारा उद्देश्य सशस्त्र बलों की आवश्यकताओं के मामले में रक्षा उद्योग को आगे बढ़ाना है ताकि स्वदेशीकरण के लक्ष्य को प्राप्त किया जा सके।’ देश में रक्षा संबंधी निर्माण को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार ने 101 सामग्रियों के आयात पर रोक लगाने का फैसला किया है। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को इसका ऐलान किया। केंद्र सरकार के इस महत्वाकांक्षी कदम से आयात से निर्भरता घटेगी और देश में रक्षा उत्पादन बढ़ेगा। रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे।
इस सूची में उच्च प्रौद्योगिकी वाले हथियार भी शामिल
राजनाथ सिंह ने बताया कि 101 रक्षा उत्‍पादों की सूची में बख्‍तरबंद लड़ाकू वाहन भी शामिल हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि 101 रक्षा उत्‍पादों की सूची में उच्च प्रौद्योगिकी वाले हथियार जैसे- तोप, परिवहन विमान, असॉल्ट राइफलें, सोनार सिस्टम, ट्रांसपोर्ट एयरक्रॉफ्ट, एलसीएच, रडार और कई अन्य चीजें शामिल हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

yes bank

यस बैंक मामला: ईडी ने राणा कपूर के 127 करोड़ रुपये के लंदन फ्लैट को कुर्क किया

नई दिल्ली: प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने यस बैंक के सह-प्रवर्तक राणा कपूर का लंदन में 127 करोड़ रुपये मूल्य का फ्लैट कुर्क किया है। ईडी आगे पढ़ें »

भारत का संरा में खुलासा : आतंकियों के रणनीतिक बदलाव के निशाने पर स्वास्थ्य कार्यकर्ता व सुरक्षाबल

नई दिल्‍ली: भारत ने मानवाधिकार परिषद के 45वें सत्र में कहा कि आतंकी कोरोना संकट के चलते लगाए गए लॉकडाउन के कारण वित्तीय और भावनात्मक आगे पढ़ें »

ऊपर