यहां कौन अपना कौन पराया, कैसे समझें किस को समझाएं?

ठाकरे ने कहा : ट्रेनें नहीं चलेंगी, मजदूरों को भेजने का रास्ता निकाल रहे हैं
मुंबई : कोरोना महामारी का सर्वाधिक दंश झेल रहे महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार ने उत्तर प्रदेश, बिहार, राजस्थान, मध्य प्रदेश, गुजरात और छत्तीसगढ़ की सरकारों से कहा कि वे महाराष्ट्र के विभिन्न क्षेत्रों में फंसे अपने लगभग साढ़े तीन लाख प्रवासियों को तुरंत वापस ले जाने की व्यवस्था करें। वह इन प्रवासियों को उन्हें सौंपने के लिए राज्य की सीमा तक पहुंचाने के लिए तैयार है। महाराष्ट्र के मुख्य सचिव अजॉय मेहता ने इन राज्यों के मुख्य सचिवों को लिखे पत्र में प्रवासी कामगारों और अपने गृह राज्यों को लौटने के इच्छुक लोगों को ले जाने की व्यवस्था करने को कहा है। इसी तरह अगर इन राज्यों में महाराष्ट्र वासी हों तो उन्हें वापस लाने की व्यवस्था की जा सकती है। 23 मार्च को पंजाब, हरियाणा और दिल्ली से 3800 सिख तीर्थयात्री नांदेड़ पहुंचे थे। नांदेड़ के ‘तखत श्री हजूर साहिब’ में फंसे 100 सिख तीर्थयात्रियों का पहला जत्था अपने अपने गृह राज्यों पंजाब, हरियाणा और दिल्ली के लिए रवाना हो गया। उनकी वापसी पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के प्रयासों और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की सहमति से संभव हुई। लॉकडाउन के एक महीने में मुंबई में संक्रमितों की संख्या 100 गुना से ज्यादा बढ़ी है। गत 25 मार्च को सिर्फ 43 मरीज थे और 2 लोगों की मौत हुई थी। अब यह तादाद 4,589 हो गयी जबकि मौत 179 हो चुकी हैं। तक जा पहुंची। देश में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने की यह सबसे तेज रफ्तार है।
ठाकरे ने केंद्र के समक्ष उठाया मुद्दा
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने भी यह मामला केंद्र सरकार और राज्य का दौरा कर रही केंद्रीय टीमों के समक्ष भी उठाया है। ठाकरे ने रविवारा को कहा कि केंद्र सरकार या उसकी टीमों से उनकी पेशकश का कोई जवाब नहीं मिला है। गत 15 अप्रैल को एक अफवाह के चलते 1500 से ज्यादा प्रवासी लोग इस उम्मीद में बांद्रा रेलवे स्टेश पर जमा हो गये थे कि उन्हें उनके राज्यों में वापस ले जाने के लिए ट्रेन की व्यवस्था की गयी है। ठाकरे ने कहा कि उनकी सरकार प्रवासी मजदूरों को उनके घर भेजने का हरसंभव रास्ता निकाल रही है फिर भी बात साफ है कि ट्रेनें नहीं चलेंगी। हम नहीं चाहते कि भीड़ जमा हो। नहीं तो लॉकडाउन को आगे बढ़ाना पड़ेगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

त्वचा को बनाएं निखरा-निखरा

- प्रतिदिन त्वचा पर धूल मिट्टी की परत जमती है और इसकी प्रतिदिन हर सफाई करना आवश्यक है, इसलिए सौम्य साबुन से स्नान करें और आगे पढ़ें »

आप की दिल्ली इकाई का होगा पुनर्गठन : गोपाल राय

नयी दिल्ली : आम आदमी पार्टी ने अपनी दिल्ली इकाई का विधानसभा, जिला, वार्ड, मतदान केंद्र और बूथ स्तर पर पुनर्गठन करने का निर्णय लिया आगे पढ़ें »

ऊपर