मोदी ने अनुच्छेद 370, 35ए हटा कर पाक को दिखायी उसकी जगह : शाह

कांग्रेस को आड़े हाथों लिया, कहा- राहुल लोगों को बतायें कि वे केंद्र के फैसले के पक्ष में हैं या नहीं
जामताड़ा (झारखंड) : झारखंड में विधानसभा चुनावों का बिगुल फूंकते हुए केन्द्रीय गृह मंत्री एवं भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने पार्टी की ‘जोहार जन आशीर्वाद यात्रा’ का शुभारंभ करने के बाद यहां जनसभा में कहा कि उनकी पार्टी अनुच्छेद 370 हटाने के पक्ष में तब से रही है, जब इसे लगाया गया था। इसे रद्द करने पर कांग्रेस के ‘पेट में दर्द’’ क्यों हो रहा है।
बुधवार आयोजित इस समारोह में शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘अनुच्छेद 370 और 35 ए’ हटा कर पाकिस्तान को उसकी जगह दिखा दी और यह बता दिया कि ‘जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग’ है। मालूम हो कि केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को रद्द करने और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने का पिछले महीने निर्णय किया था। शाह ने कहा कि भाजपा और जनसंघ का शुरू से ही यह स्पष्ट मत रहा है कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाया जाना चाहिए और उसी मत के अनुरूप हमने 370 हटा दिया लेकिन कांग्रेस ने इसका विरोध किया। जब देश की बात होती है, जब कोई राष्ट्रीय महत्व का मुद्दा होता है तो पक्ष-विपक्ष नहीं होता है। ऐसे मुद्दे पर पूरा राष्ट्र एकजुट होता है।
शाह ने कांग्रेस के नेता राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए कहा कि पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में भारतीय सेना द्वारा किये गये सर्जिकल स्ट्राइक और बालाकोट में किये गये एयर स्ट्राइक के भी सबूत मांगे। राहुल जब कभी महाराष्ट्र, झारखंड और हरियाणा जायें तो उन्हें लोगों को बताना चाहिए कि अनुच्छेद 370 पर वे (राहुल) केंद्र के फैसले के पक्ष में हैं या नहीं। उन्होंने राहुल को चुनौती देते हुए कहा कि वे देश के विभिन्न हिस्सों में जाकर जनता को बतायें कि आप देश को किस दिशा में ले जाना चाहते हैं?
शाह ने कहा कि अब झारखंड की जनता को तय करना है कि वह अनुच्छेद 370 हटाने वाले के साथ है या इसका विरोध करने वाले कांग्रेस और झामुमो के साथ है। झारखंड में नक्सलवाद था लेकिन अब झारखंड नक्सल मुक्त राज्य बनने और विकासात्मक पहलों की दिशा में आगे बढ़ रहा है। मुख्यमंत्री रघुवर दास की ‘जोहार जन आशीर्वाद यात्रा’ के बाद भाजपा एक बार फिर राज्य में बहुमत की सरकार बनायेगी। शाह ने संथाल परगना क्षेत्र की जनता से क्षेत्र की सभी 18 विधानसभा सीटों पर भाजपा को जीत दिलाने का अनुरोध किया। मुख्यमंत्री रघुवर दास, केंद्रीय जनजातीय कार्य मंत्री अर्जुन मुंडा और बिहार के मंत्री एवं भाजपा की झारखंड इकाई के प्रभारी नंद किशोर यादव भी इस मौके पर उपस्थित थे। मालूम हो कि झारखंड, महाराष्ट्र और हरियाणा में इस साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अप्रैल में सोने के निर्यात में करीब 100 फीसद की गिरावट दर्ज की गई

नई दिल्ली : हालिया वैश्विक गतिविधियों के कारण देश का स्वर्ण आयात लगातार घट रहा है। इस साल अप्रैल में लगातार पांचवे महीने देश के आगे पढ़ें »

‘क्रिकेट की बहाली के लिये आईसीसी के कुछ दिशा निर्देश अव्यवहारिक, समीक्षा की जरूरत’

हर बार गेंद को छूने के बाद हाथ सेनिटाइज करना संभव ही नहीं नयी दिल्ली : पूर्व क्रिकेटरों आकाश चोपड़ा, इरफान पठान और मोंटी पनेसर का आगे पढ़ें »

ऊपर