मेहनत और पसीने से कमाया है जनता का भरोसा – मोदी

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि जब वो सार्वजनिक जीवन में नहीं थे तो उन्होंने 30-35 साल एक सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में भटकते हुए गुजारे हैं। इस दौरान उन्होंने जिंदगी के काफी अनुभव लिए। पीएम मोदी ने कहा कि लोग जानते हैं कि वे किसी शाही परिवार से नहीं आते हैं। उन्होंने अपना काफी समय सत्ता के गलियारों से दूर गुजारा है और आम आदमी की समस्याएं, आकांक्षाएं और क्षमताओं का आकलन किया है। इसलिए उनके फैसले आम जनता की मुश्किलें कम करने की दिशा में एक कोशिश होती है। पीएम मोदी ने सार्वजनिक जीवन में अपने 20 साल पूरे होने पर OPEN मैग्जीन को दिए इंटरव्यू में अपने राजनीतिक सफर के बारे में विस्तार से बात की है। नरेंद्र मोदी ने कहा कि उनकी नीतियां जनता की मुश्किलें कम करने वाली होती हैं। इसलिए जब वो फैसला लेते हैं तो लोग समझते हैं कि ये प्रधानमंत्री हमारी दिक्कतों को समझता है, हमारे जैसा सोचता है और हमारे बीच से ही है।

लोगों का ये भरोसा किसी PR एजेंसी ने नहीं बनाया है-PM

अपनी छवि और PR मैनेजमेंट जैसे आरोपों पर पीएम मोदी ने मुखर होकर जवाब दिया और कहा कि लोगों का ये भरोसा, उनका ये जुड़ाव हर परिवार में ये भावना पैदा करता है कि मोदी हमारे ही परिवार का है। ये विश्वास किसी PR एजेंसी की बनाई हुई धारणा नहीं है, इस विश्वास को मेहनत और पसीने द्वारा कमाया गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

कार्तिक मास का पहला शनिवार कब है? जानें इस दिन की तिथि ..

कोलकाता : कार्तिक मास का आरंभ हो चुका है। हिंदू कैंलेडर के अनुसार 21 अक्टूबर 2021, गुरुवार से कार्तिक मास आरंभ हो चुका है धर्म-कर्म आगे पढ़ें »

ऊपर