मेट्रो से इस्कॉन मंदिर पहुंचे मोदी, लोगो के साथ खिचवाई फोटो, बच्‍चो के साथ ली सेल्‍फी

नयी दिल्ली : पुलवामा हमले के गुस्‍से को बलाकोट पर बम गिराकर लोगों की भावना को शांत करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंंगलवार को यहां के इस्कॉन मंदिर पहुंचे तथा दुनिया की सबसे वजनी भगवद्गीता का अनावरण किया। 12 फीट लंबी और 9 फीट चौड़ी इस पुस्तक का वजन 800 किलोग्राम है। इसे छापने में ढाई साल लगे और लागत डेढ़ करोड़ रुपए आई है। इस्कॉन मंदिर पहुंचने के लिए मोदी ने मेट्रो से यात्रा की। मेट्रो की यात्रा के दौरान उन्होंने लोगों से मुलाकात भी की। इस दौरान सफर कर रहे लोगों ने बच्चों ने मोदी के साथ सेल्फी भी ली। गीता प्रचार के 50 साल पूरा होने पर तैयार करवाया गया यश्‍ पुस्‍तक इटली के मिलान शहर में तैयार की गई। 20 जनवरी को इसे दिल्ली के इस्कॉन मंदिर में लाया गया था। इस्कॉन के संस्थापक आचार्य श्रीमद् एसी भक्ति वेदांत स्वामी श्रील प्रभुपाद ने गीता प्रचार के 50 साल पूरा करने के उपलक्ष्य में इसे तैयार किया गया है। सोना, चांदी और प्लेटिनम का भी इस्तेमाल हुआइस गीता में कुल 670 पेज हैं। इसे सिंथेटिक के मजबूत कागज पर तैयार किया गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टोक्‍यों ओलंपिक में खिलाड़ियों का पूरा समर्थन करेगा देश : कोविंद

नयी दिल्ली : राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शनिवार को कहा कि 24 जुलाई से नौ अगस्त तक आयोजित 2020 टोक्यो ओलंपिक में देश का प्रतिनिधित्व आगे पढ़ें »

बुकर पुरस्कार विजेता जोखा अल हार्सी पहुंचीं जयपुर साहित्य महोत्सव में, लेखन चुनौतियों का जिक्र किया

जयपुरः ओमान की लेखिका एवं बुकर पुरस्कार विजेता जोखा अल हार्सी के लिए लेखन का सबसे दिलचस्प और चुनौतीपूर्ण पहलू समाज में मौजूद अनसुनी और आगे पढ़ें »

ऊपर