‘मृत्युदंड पाने वाले की दया याचिका की फाइल नोटिंग सार्वजनिक हो’

नयी दिल्ली : बलात्कार और हत्या के दोषी व्यक्ति की दया याचिका की फाइल नोटिंग सार्वजनिक करने की अनुमति केन्द्रीय सूचना आयोग (सीआईसी) ने दे दी है। आयोग ने सरकार की इस दलील को खारिज कर दिया कि रिकार्ड का खुलासा नहीं हो सकता क्योंकि ये संविधान के अनुच्छेद 74 (2) के तहत विशेषाधिकार प्राप्त दस्तावेज हैं। पुणे की यरवदा जेल में बंद प्रदीप यशवंत कोकडे की मां ने केन्द्रीय गृह मंत्रालय से गुहार लगाकर सूचना के अधिकार के तहत दोषी द्वारा दायर दया याचिका से संबंधित फाइल नोटिंग की प्रतियां मांगी थीं, जिससे इनकार कर दिया गया था। आवेदक ने आयोग के सामने दलील दी थी कि यह अनुच्छेद मंत्रिपरिषद द्वारा दी गयी सलाह को ही संरक्षण देता है और उनके द्वारा मांगी गयी सूचना मंत्रिपरिषद की सलाह के दायरे में नहीं आती।

शेयर करें

मुख्य समाचार

murshidabad

5 मिनट में उसने शिक्षक समेत तीनों को उतारा था मौत के घाट !

कोलकाता : मुर्शिदाबाद में तीहरे हत्याकांड की गुत्थी आखिरकार पुलिस ने सुलझा ली है, ऐसा दावा है पुलिस का। इस मामले में पुलिस ने मुख्य आगे पढ़ें »

मौका मिले तो आठवां ओलंपिक खेलना चाहूंगा : पेस

मेलबोर्न : भारत के लीजेंड टेनिस खिलाड़ी लिएंडर पेस के दिल में आठवां ओलंपिक खेलने की लालसा बरकरार है और यदि उन्हें मौका मिलता है आगे पढ़ें »

महिला क्रिकेट रैंकिंग : स्मृति मंधाना ने गंवाया पहला स्थान, मिताली की लंबी छलांग

डेनमार्क ओपन : सिंधू व प्रणीत डेनमार्क ओपन के दूसरे दौर में पहुंचे

आदिल के गोल से भारत ने बांग्लादेश को बराबरी पर रोका

Praful Patel

ईडी ने प्रफुल्ल पटेल को भेजा समन, इकबाल मिर्ची की बिल्डिंग में है फ्लैट

Car crash

उत्तराखंड : कार खाई में गिरी, परिवार के तीन सदस्याें समेत पांच की मौत

Sonali Phogat

सबसे ज्‍यादा सर्च की जाने वाली हरियाणा की नेता बन गई हैं सोनाली,खट्टर और हुड्डा को छोड़ा पीछे

train

दैनिक रेलयात्रियों के लिए 12 नयी पैसेंजर ट्रेनें चलेंगी

afghan

अफगानिस्तान में चुनाव प्रचार के दौरान हिंसा में 85 आम लोग मारे गए, 373 घायल : संयुक्त राष्ट्र

ऊपर