महिला ने दिया बिना हाथ-पैर वाली बच्ची को जन्म

विदिशा : विदिशा जिला मुख्यालय से करीब 80 किलोमीटर दूर सांकला गांव में 28 वर्षीय महिला ने एक ऐसी बच्ची को जन्म दिया है, जिसके हाथ-पैर नहीं हैं। इस बच्ची के पिता सोनू वंशकार ने बताया, ‘मेरी पत्नी प्रीति ने शुक्रवार को एक बच्ची को घर में ही जन्म दिया है। बच्ची का जन्म सिर्फ सिर और धड़ के साथ हुआ है। उसके हाथ-पैर नहीं हैं। लेकिन वह पूरी तरह स्वस्थ है।’ उन्होंने कहा कि यह हमारा तीसरा बच्चा है। इससे पहले हमारा एक बेटा और एक बेटी है। वहीं, सिरोंज प्रखंड के चिकित्सा अधिकारी डॉ प्रमोद दीवान ने कहा, ‘ये जन्मजात विकृति का मामला है। लाखों मामलों में इस तरह की स्थिति बनती है।’ दीवान ने कहा, ‘यह बच्ची घर पर ही हुई थी और मैंने वहां एक एएनएम (दाई) और एक आशा कार्यकर्ता को भेजा था।’ उन्होंने कहा कि बच्ची के माता-पिता उसे जांच के लिए अस्पताल में लाने के लिए तैयार नहीं हैं। दीवान ने बताया कि उसके माता-पिता कह रहे हैं कि बच्ची स्वस्थ है, इसलिए हम उसे अस्पताल नहीं ला रहे हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल सरकार ने इन शहरों से कोलकाता के लिए विमान सेवा पर लगायी रोक

कोलकाता : देशभर में कोरोना वायरस संक्रमण के तेजी से बढ़ते मामलों से बचाव के लिए पश्चिम बंगाल सरकार ने कुछ शहरों से विमान सेवा आगे पढ़ें »

बंगाल में बेरोजगारी दर 6.5 प्रतिशत, देश की तुलना में कहीं बेहतर : ममता

कोलकाता : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि जून में राज्य में बेरोजगारी की दर 6.5 प्रतिशत रही है, जो देश आगे पढ़ें »

ऊपर