मसूद पर वित्तीय प्रतिबंध लगायेगा फ्रांस

  • आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में हमेशा रहेगा भारत के साथ।। मसूद को आतंकी गतिविधियों में शामिल व्यक्तियों, समूहों एवं इकाइयों की यूरोपीय संघ की सूची में शामिल करवाने की दिशा में भी उठायेगा कदम

नयी दिल्ली : आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर पर फ्रांस ने वित्तीय प्रतिबंध लगाने का निर्णय किया है, जिसमें मौद्रिक एवं वित्तीय संहिता के तहत उसकी सम्पत्तियों को जब्त करना शामिल है। फ्रांस के यूरोप एवं विदेशी मामलों के मंत्रालय, फ्रांस के आर्थिक एवं वित्त मंत्रालय तथा आंतरिक मामलों के मंत्रालय के संयुक्त बयान में कहा है कि 14 फरवरी 2019 को पुलवामा में एक घातक हमला हुआ, जिसमें सीआरपीएफ के 40 जवानों ने जान गंवायी। जैश-ए-मोहम्मद ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है, जिसे 2001 से ही संयुक्त राष्ट्र आतंकी संगठन घोषित करने का प्रयास कर रहा है। फ्रांस आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में हमेशा से भारत के साथ रहा है और हमेशा रहेगा। बयान में यह भी कहा गया है कि हम इस मुद्दे को अपने यूरोपीय सहयोगियों के साथ उठायेंगे ताकि मसूद को आतंकी गतिविधियों में शामिल व्यक्तियों, समूहों एवं इकाइयों की यूरोपीय संघ की सूची में शामिल किया जा सके।
उल्लेखनीय है कि फ्रांस ने संयुक्त राष्ट्र में मसूद पर प्रतिबंध लगाने के लिये नये सिरे से प्रयास किया था। फ्रांस ने अमेरिका और ब्रिटेन के साथ संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में एक प्रस्ताव पेश किया था, जिसमें पाकिस्तान के आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना को ‘वैश्विक आतंकी’ घोषित करने की बात कही गयी थी। हालांकि, इस प्रस्ताव पर चीन ने तकनीकी आपत्ति जताते हुए अड़गा लगा दिया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

लोगों में पीओके की आजादी के लिये ‘जुनून’ है : ठाकुर

जम्मू : केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने सोमवार को कहा कि जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को समाप्त करने के बाद पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर आगे पढ़ें »

पिछले पांच-छह साल में बढ़े हैं दलितों पर अत्याचार : प्रशांत भूषण

नयी दिल्ली : भीम आर्मी द्वारा आयोजित संवाददाता सम्मेलन में सामाजिक कार्यकर्ता व वकील प्रशांत भूषण ने सोमवार को आरोप लगाया कि पिछले पांच-छह साल आगे पढ़ें »

ऊपर