मध्य प्रदेश के शहडोल में है रावत का ससुराल

1985 में रियासतदार के घर हुइ शादी, ससुर कांग्रेस के दो बार विधायक रहे
तमिलनाडु में कुन्नूर के जंगलों में बुधवार दोपहर 12:20 बजे सेना का Mi-17V5 हेलिकॉप्टर क्रैश में CDS बिपिन रावत और पत्नी मधुलिका का निधन हो गया। दोनों का मध्यप्रदेश से गहरा नाता रहा था। रावत आर्मी पर्सन होने के साथ पारिवारिक और पढ़ाई को लेकर भी कई बार मध्य प्रदेश आ चुके थे। मधुलिका सिंह के भाई यशवर्धन सिंह ने बताया कि उनकी 10 दिन पहले ही जीजा से बात हुई थी। उन्होंने जनवरी 2022 में शहडोल आने का वादा किया था। शादी के बाद दीदी का शहडोल आना कम होता था, लेकिन वह लगातार संपर्क में रहती थीं। उन्होंने 2 दिन पहले बात कर जल्द ही शहडोल आने की इच्छा जताई थी। उन्होंने कहा कि उन्हें और पत्नी को लेने के लिए एयर फोर्स का विमान भोपाल पहुंच रहा है। दिल्ली यूनिवर्सिटी से मनोविज्ञान की पढ़ाई करने वालीं मधुलिका रावत आर्मी वाइव्स वेलफेयर एसोसिएशन (AWWA) की अध्यक्ष थीं। वे सेना के जवानों की पत्नियों, बच्चों और आश्रितों की खुशहाली के लिए काम करती थीं। मधुलिका ग्वालियर के सिंधिया स्कूल की छात्रा भी रही हैं। सेनाध्यक्ष बनने के बाद जनरल रावत के साथ वह 3 साल पहले सिंधिया स्कूल के कार्यक्रम में ग्वालियर शिरकत करने पहुंची थीं। इनकी आगे की पढ़ाई लखनऊ और दिल्ली में हुई। मेरठ विश्वविद्यालय से डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त रावत का इंदौर से भी गहरा नाता रहा है। वह महू में अपनी सेवाएं दे चुके हैं। उन्होंने रक्षा और मैनेजमेंट विषय में एमफिल की डिग्री इंदौर के देवी अहिल्या विश्वविद्यालय से ही प्राप्त की थी।
मधुलिका ने जल्द ही शहडोल आने का कहा था। सोहागपुर के रहने वाले गुलाबचंद गुप्ता का कहना है कि मधुलिका के पिता राजा थे, वाे ताे रानी जैसे रहती थीं। जब उनकी शादी हुई तो क्या कहना था। मधुलिका का बचपन राजबाग के साथ ही पैतृक घर सोहागपुर गढ़ी में बीता है। चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) जनरल बिपिन रावत का ससुराल शहडोल जिले के सोहागपुर में है। उसकी सास अभी शहडोल में थीं, इसलिए वे वहीं से जबलपुर होते हुए गुरुवार को दिल्ली के लिए रवाना होंगी। रावत की पत्नी मधुलिका सिंह रियासतदार कुंवर मृगेंद्र सिंह की मंझली बेटी थी। मधुलिका की शादी जनरल बिपिन रावत से 1985 में हुई थी। मधुलिका के पिता कांग्रेस से सोहागपुर से 1967 और 1972 में दो बार विधायक रहे। परिवार की माने तो मधुलिका 2012 में अंतिम बाद शहडोल आई थीं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

देगंगा में एक ही रात 5 घरों में चोरी से मचा हड़कंप

बारासात : बारासात अंचल के देगंगा थाना अंतर्गत पूर्व चांगदान इलाके में एक ही रात 5 घरों में चोरी होने से हड़कंप मच गया। मिली आगे पढ़ें »

ऊपर