मंदिर में घुसा मगरमच्छ तो पूजा को उमड़ी भीड़

महिसागर : गुजरात के लुणावाडा इलाके में एक आश्चर्य चकित कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां के 200 साल पुराने खोडियार माता मंदिर में एक मगरमच्छ घुस आया। इसकी खबर मिलते ही मंदिर में भीड़ उमड़ पड़ी। लोग इस हिंसक प्राणी को मारने की वजाय उसकी पूजा करने लगे।
दैवीय शक्ति का नतीजा मान रहे हैं
दरअसल, शनिवार रात इस मंदिर में चोरी हुई थी जिसके बाद गांव के युवक मं‌दिर की पहरेदारी कर रहे थे। इस दौरान रात्रि के डेढ बजे मंदिर में आहट सुनकर जैसे ही वे चोर की आशंका से अंदर पहुंचे तो वहां का नजारा कुछ और ही था। एक 6 फुट का मगरमच्छ देवी की प्रतिमा के सामने पड़ा था। खोडियार देवी का वाहन माने जाने वाले मगरमच्छ को देखने के बाद लोगों ने उसकी पूजा शुरू कर दी। लोग मगरमच्छ के मंदिर में आने को दैवीय शक्ति का नतीजा मान रहे हैं।
मगरमच्छ को देखने उमड़ा हुजूम
मंदिर में मगरमच्छ के होने की खबर मिलते ही लोगों का हूजूम उमड़ पड़ा। लोग गर्भगृह के दरवाजे तथा खिड़की से झांककर उसे देख रहे थे। ग्रामीण इसे शुभ संकेत मानते हुए उसकी पूजा करने लगे। इस दौरान कुछ लोगों ने मगरमच्छ के ऊपर सिंदूर फेंक दिया जिससे वह अक्रामक हो गया।
वन विभाग अधिकारियों को करनी पड़ी मशक्कत
मंदिर में मगरमच्छ के होने की सूचना मिलते ही वन अधिकारी वहां पहुंच गए। वे मगरमच्छ को अपने पकड़ने की कोशिश करने लगे जिसका ग्रामीणों ने विरोध किया। ग्रामीणों का कहना था कि यह उनकी आस्‍था का विषय है, इसलिए हम मगरमच्छ को ले जाने नहीं देंगे। ऐसे में अधिकारियों को ग्रामीणों को समझाने में काफी मशक्कत करनी पड़ी, तब उन्होंने मगरमच्छ को ले जाने की इजाजत दी।

बता दें कि मंदिर के पास ही एक तालाब है। ऐसा माना जा रहा है कि मगरमच्छ इसी तालाब से निकलकर मंदिर में पहुंच गया होगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कोलकाता में लॉजिस्टिक के लिए विश्व बैंक तैयार कर रहा मास्टर प्लान : अमित मित्र

परियोजना की​ लागत करीब 300 मिलियन डॉलर कोलकाता : कोलकाता मेट्रोपॉलिटन एरिया में जल्द ही लॉजिस्टिक के क्षेत्र में बड़ी संभावनाएं सामने आने वाली हैं। इसकी आगे पढ़ें »

अफवाहों पर ध्यान ना दें, हम सब एक हैं – विजयवर्गीय

कोलकाता : भाजपा के सांगठनिक चुनाव काे लेकर शनिवार को माहेश्वरी भवन में भाजपा की अहम बैठक की गयी। इस बैठक में भाजपा के राष्ट्रीय आगे पढ़ें »

ऊपर