भारत ने किया स्वदेशी मानव रहित स्क्रैमजेट विमान का सफल परीक्षण

बालासोर (ओडिशा) : भारत ने स्वदेश में विकसित पहले हाइपरसोनिक गति से उड़ान भरने वाले एक मानवरहित स्क्रैमजेट प्रदर्शक विमान का परीक्षण किया है। ओडिशा तट के पास स्थित एक एयरबेस से बुधवार को किया गया परीक्षण सफल रहा। रक्षा सूत्रों की मानें तो यह विमान देश में हाइपरसोनिक क्रूज मिसाइल प्रणाली विकसित करने की महत्वाकांक्षी कार्यक्रम का अहम हिस्सा है।

डॉ. अब्दुल कलाम द्वीप से हुआ परीक्षण

इस संबंध में रक्षा सूत्रों ने बताया कि अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) ने बताया यह परीक्षण बंगाल की खाड़ी में डॉ. अब्दुल कलाम द्वीप से पूर्वाह्न करीब 11 बजकर 25 मिनट पर किया। डीआरडीओ के सूत्रों ने कहा कि ‘‘नयी तकनीक का परीक्षण किया गया। रडार से प्राप्त डेटा दिखाता है कि परीक्षण सफल रहा।’’

दोहरे उपयोग की प्रौद्योगिकी

सूत्रों का कहना है कि डीआरडीओ के एचएसटीडीवी (हाइपरसोनिक प्रौद्योगिकी प्रदर्शक वाहन) कार्यक्रम के तहत करीब 20 सेकंड की कम अवधि के लिए स्क्रैमजेट प्रौद्योगिकी के प्रदर्शन के उद्देश्य से प्रदर्शक उड़ान विमान की अवधारणा की गई है। सूत्रों ने बताया कि हाइपरसोनिक और लंबी दूरी की क्रूज मिसाइलों के लिए यान के तौर पर प्रयोग किए जाने के अलावा यह एक दोहरे उपयोग की प्रौद्योगिकी है जो कई असैन्य कार्यों में भी प्रयोग की जाएगी। उन्होंने कहा कि इसका इस्तेमाल कम लागत में उपग्रहों के प्रक्षेपण में भी किया जा सकता है।

बता दें कि इस अवधारणा के साकार होने के साथ ही भारत उन चुनिंदा देशों में शामिल हो जाएगा जिनके पास इस प्रकार की तकनीक है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

प्रदीप कुमार जोशी बनें यूपीएससी के अध्यक्ष

नयी दिल्ली : शिक्षाविद् प्रोफेसर प्रदीप कुमार जोशी को शुक्रवार को संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) का अध्यक्ष नियुक्त किया गया। यूपीएससी भारत के नौकरशाहों आगे पढ़ें »

12 हजार हॉर्स पावर वाला लोकोमोटिव इंजन बिहार से पहुंचा हावड़ा स्टेशन

हावड़ा : 12 हजार हॉर्स पावर वाला डब्ल्यूएजी -12 बी रेल इंजन का जायजा लेने के लिए पूर्व रेलवे के जीएम सुनीत शर्मा हावड़ा स्टेशन आगे पढ़ें »

ऊपर