भारत अब पावर क्षेत्र में चीन को दिखायेगा ठेंगा

नयी दिल्ली : भारत-चीन सीमा के बीच लद्दाख में भारत के शहीद हुए 20 जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए भारत हर दिन चीन को एक झटका अलग-अलग क्षेत्र से दे रहा है। सबसे पहले एक साथ चीन के 59 ऐप भारत में बंद कर डिजिटल झटका दिया उसके बाद दूसरे दिन सड़क निर्माण में पूरी तरह से चीनी कंपनियों को बर्खास्त कर भारत से दाना-पानी साफ कर दिया है। इसी क्रम में आज तीसरा झटका देते हुए केंद्रीय मंत्री आरके सिंह ने कहा है कि पावर परियोजनाओं के लिए चीन से जो भी आयात होता था, अब सरकार उसे नियंत्रित कर सकती है। इस क्षेत्र में कस्टम ड्यूटी को बढ़ाया जा सकता है। एक साक्षात्कार में मंत्री ने कहा कि सरकार की ओर से कस्टम ड्यूटी को बढ़ाया जाएगा, ताकि आसानी से होने वाले आयात को सख्त किया जाए।
आज पूरी दुनिया भारत के साथ
चीनी कंपनियों को रोकने के लिए कस्टम के साथ-साथ नियमों में सख्ती बरती जाएगी। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि भारत इतनी ताकत रखता है कि हम आर्थिक स्तर के साथ-साथ युद्ध क्षेत्र में भी चीन को धकेल सके। आज पूरी दुनिया भारत के साथ है, इसमें भारत के मजबूत नेतृत्व का हाथ है।
आपूर्ति को भारत अपने दम पर पूरा कर सकता है
उन्होंने कहा कि हम अपने देश में आपूर्ति को अपने दम पर पूरा कर सकते हैं। पहले सामान इसलिए मंगाया जाता था, क्योंकि चीन सस्ते दाम पर अपना उत्पाद दे देता था। लेकिन अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से आत्मनिर्भर भारत की शुरुआत की गई है। अब घर के सामान पर निर्भरता बढ़ेगी, क्योंकि हर भारतीय चाहता है कि चीन को कड़ा सबक सिखाया जाए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

लगभग पांच महीने के बाद स्क्वाश खिलाड़ियों ने शुरू किया अभ्यास

चेन्नई : भारत की शीर्ष महिला स्क्वाश खिलाड़ी जोशना चिनप्पा ने कोविड-19 महामारी के कारण लगभग पांच महीने के बाद सोमवार को भारतीय स्क्वाश अकादमी आगे पढ़ें »

थॉमस और उबेर कप बैडमिंटन फाइनल्स में भारत को मिला आसान ड्रा

नयी दिल्ली : भारत को डेनमार्क के आरहूस में तीन से 11 अक्टूबर तक होने वाले थॉमस और उबेर कप बैडमिंटन फाइनल्स में आसान ड्रा आगे पढ़ें »

ऊपर