भारतीय वायुसेना की राफेल परियोजना प्रबंधन टीम के दफ्तर में घुसपैठ की कोशिश: सूत्र

पेरिस/नई दिल्ली: भारतीय वायुसेना (आईएएफ) के पेरिस स्थित दफ्तर में रविवार रात को घुसपैठ की कोशिश की गई। सूत्रों के मुताबिक, यह दफ्तर आईएएफ की राफेल परियोजना प्रबंधन टीम का है। वायुसेना ने इस संबंध में रक्षा मंत्रालय को सूचना दे दी है। यह टीम फ्रांस में 36 राफेल विमानों के उत्पादन पर नजर रखने और भारतीय पायलटों के प्रशिक्षण की जिम्मेदारी संभाल रही है।

साफ नहीं है कारण

एक न्यूज एजेंसी के मुताबिक, सूत्रों ने बताया कि परियोजना प्रबंधन टीम की अगुआई ग्रुप कैप्टन रैंक के अधिकारी को सौंपी गई है। दफ्तर पेरिस के बाहरी हिस्से में स्थित है। अभी तक यह साफ नहीं हो पाया है कि घुसपैठ की कोशिश का मकसद जासूसी था, या फिर कुछ और। अभी तक भारतीय वायुसेना, रक्षा मंत्रालय या फ्रांस के दूतावास ने इस घटना पर कोई बयान नहीं दिया है। न्यूज एजेंसी ने कुछ जानकारियों के आधार पर यह रिपोर्ट जारी की है।

विपक्ष के आरोपों में छाया था राफेल

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर राफेल को लेकर कई बार निशाना साधा। राहुल का आरोप है कि इस मामले में बड़े स्तर पर घोटाला हुआ है। यूपीए सरकार के दौरान राफेल विमानों को लेकर जो समझौता किया गया था, उसे एनडीए सरकार ने अपने हितों के लिए बदल दिया। राहुल ने इस मामले में बड़े स्तर पर गड़बड़ी की आशंका जाहिर की थी। केंद्र सरकार ने राफेल से जुड़े दस्तावेज लीक होने के मामले में सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल किया था। इसमें केंद्र ने दलील दी है कि राफेल मामले में जिन दस्तावेजों को आधार बनाकर पुनर्विचार याचिका दाखिल की गई, वे भारतीय सुरक्षा के लिए संवेदनशील हैं। इनके सार्वजनिक होने से देश की सुरक्षा खतरे में पड़ी हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

मूडीज इन्वेस्टर्स ने बैंकिंग सेक्टर के लिए अनुमान स्थिर से नेगेटिव किया

नई दिल्ली : देश में कोरोना के प्रसार को देखते हुए मूडीज इन्वेस्टर्स ने भारतीय बैंकिंग सिस्टम के लिए अपने अनुमान को स्थिर से बदल आगे पढ़ें »

पीएम केयर्स फंड में दो साल का वेतन देंगे गौतम गंभीर

नयी दिल्ली : क्रिकेटर से राजनीतिज्ञ बने गौतम गंभीर ने गुरुवार को कोविड-19 महामारी से बचाव के लिये सांसद के तौर पर अपना दो साल आगे पढ़ें »

ऊपर