भाजपा नेत्री सोनाली फोगाट ने मार्केट कमेटी के कर्मचारी को चप्पलों से पीटा

हिसार : भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर विधानसभा चुनाव लड़ चुकी और टिकटॉक स्टार सोनाली फोगाट ने हिसार जिले के बालसमंद की अनाज मंडी में आज मार्केट कमेटी के एक कर्मचारी को चप्पलों से पीटा । सूत्रों के अनुसार फोगाट किसानों के मुद्दे पर बात करने गई थीं, जिसके बाद उसने अभद्र भाषा का प्रयोग किया था जिसके बाद​ विवाद बढ़ गया और सोनाली ने कर्मचारी को चप्पलों से धुना।
वायरल वीडियो में देखा जा सकता है फोगाट को
मंडी में ही एक व्यक्ति के बनाये घटना के वायरल वीडियो में फोगाट चप्पलों से मारने से पहले मार्केट कमेटी के कर्मचारी से कहती दिख रही है, ‘तुम्हें जितने चप्पलों से मारे जाएं कम हैं। तुम्हारे लिए कोई माफी नहीं। औरत के साथ भद्दा मजाक, भद्दी बात बोलना किसने सिखाया आपको? तुम्हारे घर में मां-बहन नहीं हैं?’ इतना कहकर सोनाली फोगाट ने अधिकारी को चप्पलों से धुनना शुरू कर दिया। वायरल वीडियो में फोगाट को चप्पलों से धुनते हुए देखा जा सकता है ।
किया गया मामला दर्ज
सोनाली ने वहीं पर थाना प्रभारी को भी बुलाया और मामला दर्ज करने को कहा। पुलिस ने बताया कि मामला दर्ज किया गया है और मामले की जांच की जा रही है। टिकटॉक स्टार फोगाट ने 2019 में आदमपुर विधानसभा सीट से कांग्रेस नेता कुलदीप बिश्नोई के खिलाफ चुनाव लड़ा था और हार गई थीं। सूत्रों के मुताबिक विवाद एक शेड बनाने को लेकर था। किसानों का मुद्दा लेकर सोनाली फोगाट गई थी, जिसके बाद वहां विवाद हुआ।

लिखित में माफी मांगी

जिस व्यक्ति को सोनाली फोगाट ने चप्पलों से धुना वह मार्केट कमेटी हिसार का सचिव है। घटना के बाद उसने पुलिस थाने में माफी नामा दिया जिसमें लिखा कि मैंने सोनाली फोगाट के प्रति अभद्र भाषा का उपयोग किया था त​था बदतमीजी की थी जिसके लिए माफी मांगता हूं। इस पूरे प्रकरण का जिम्मेदार मैं हूं तथा मैं किसी प्रकार की कार्यवाही नहीं चाहता ।

शेयर करें

मुख्य समाचार

वेस्टइंडीज जीत के करीब, इंग्लैंड ने दूसरी पारी में 313 रन बनाए

साउथैम्पटन : इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में वेस्टइंडीज जीत की ओर है। मैच के पांचवें दिन टी ब्रेक तक मेहमान टीम ने 4 विकेट के आगे पढ़ें »

पगबाधा का फैसला सिर्फ और सिर्फ डीआरएस से हो : तेंदुलकर

नयी दिल्ली : महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने अंपायरों के फैसलों की समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) को ‘अंपायर्स कॉल’ को हटाने आगे पढ़ें »

ऊपर