भाजपा की नजर अब बंगाल पर

  • विजयवर्गीय बोले- जनवरी से सीएए लागू हो सकता है
  • फिरहाद हकीम ने किया वियवर्गीय का पलटवार

कोलकाताः पश्चिम बंगाल में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं। इसी के मद्देनजर भाजपा ने रणनीति बनाना शुरू कर दिया है। पार्टी महासचिव और बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कहा है कि जनवरी तक सरकार नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) लागू कर सकती है। उन्होंने ममता बनर्जी सरकार पर आरोप लगाते हुए यह भी कहा कि उन्हें शरणार्थियों से सहानुभूति नहीं है। सरकार नेक इरादा दिखाते हुए पड़ोसी देशों से आए शरणार्थियों को नागरिकता देने के लिए सीएए पास कर चुकी है। इस पर तृणमूल कांग्रेस के मंत्री फरहद हकीम ने कहा कि भाजपा नागरिकता को लेकर मतलब क्या है? अगर मतुआ लोग नागरिक नहीं हैं तो वे विधानसभा चुनाव में वोट कैसे डाल सकते हैं। भाजपा को लोगों को मूर्ख बनाना बंद करना चाहिए।

दीदी को लग सकता है झटका
पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार से इस्तीफा दे चुके पूर्व मंत्री सुवेंदु सरकार भाजपा में शामिल हो सकते हैं। भाजपा सांसद अर्जुन सिंह ने इसके संकेत दिए हैं। दूसरी तरफ, ममता बनर्जी ने भी इस मामले पर सख्त रुख अपनाया। ममता ने शनिवार शाम कहा- जो पार्टी छोड़कर जाना चाहता है, वो बिल्कुल जा सकता है। हम पार्टी विरोधी गतिविधियों को बिल्कुल सहन नहीं करेंगे। सुवेंदु पश्चिम बंगाल के प्रभावी नेता माने जाते हैं और उनका लंबे वक्त से पार्टी सुप्रीमो और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से विवाद चल रहा है। वहीं, भाजपा सांसद अर्जुन सिंह ने शनिवार को कहा- अगर सुवेंदु अधिकारी भाजपा में शामिल होते हैं तो ममता सरकार चुनाव के पहले ही गिर जाएगी। इसका मतलब ये भी हुआ कि अब कई लोग तृणमूल कांग्रेस छोड़कर जा सकते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

तृणमूल का इंजन हैं ममता, सबको साथ लेकर चलती हैं : पार्थ

कहा : कौन किस स्टेशन पर उतरेगा उससे पार्टी को फर्क नहीं पड़ता तृणमूल की संपदा कार्यकर्ता है जो हमारे साथ है सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : पार्टी से आगे पढ़ें »

इस बार खास, सारे पोलिंग बूथ होंगे अंडरग्राउंड

80 साल से अधिक उम्र व दिव्यांग मतदाताओं को होगी सहूलियत सी-विजिल एप पर कर सकेंगे किसी प्रकार की शिकायत सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर आगे पढ़ें »

ऊपर