बालाकोट में ही बना था पुलवामा हमले का प्लान, भारत ने वहीं गिराए बम

नयी दिल्ली : पुलवामा अटैक के बाद गम में डूबे देश को आखिर खुश होने को मौका मिल गया। अभी शहीदों की चिताओं की राख भी ठंडी नहीं हो पायी थी कि भारतीय वायु सेना ने सोमवार रात को पाकिस्‍तान में घुसकर आतंकी संगठन के मुख्‍यालय को तबाह कर दिया। भारत ने सीमा पार पाकिस्तान स्थित बालाकोट में आतंकी गुट जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर हमला कर पुलवामा हमले का बदला ले लिया। भारतीय वायु सेना की इस कार्रवाई में आतंकवादी, प्रशिक्षक, शीर्ष कमांडर और जिहादी मारे गए है। भारतीय वायु सेना के प्रमुख बीएस धनोआ पहले ही एयर स्ट्राइक के बारे में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल को जानकारी दे चुके थे। सूत्रों के मुताबिक पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर हमले के बाद 15 फरवरी को ही वायु सेना प्रमुख धनोआ ने एनएसओ को आतंकी संगठनों के शिविरों पर स्ट्राइक की योजना के बारे में बताया था। सूत्रों ने बालाकोट को हमले के लिए चुने जाने के बारे में बताया कि पुलवामा में में भारतीय सुरक्षा बलों पर हमले की साजिश पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकियों ने तैयार की थी। बालाकोट में एयर स्ट्राइक की एक दूसरी वजह यह भी रही क्योंकि पाकिस्तान की सेना नियमित तौर पर इस इलाके में आतंकियों को प्रशिक्षित करती है ताकि भारत के खिलाफ हमला किया जा सके। सूत्रों ने बताया कि बॉर्डर एक्शन टीम और पाकिस्तान की सेना आतंकियों को एलओसी पार करने के लिए बालाकोट में ही प्रशिक्षित करती रहती है। हालांकि सीमा पर अभी तक पाकिस्तान आर्मी की तरफ से कोई स्पेशल गतिविधि देखने को नहीं मिली है। मारे गए आतंकियों में जैश प्रमुख मसूद अजहर का बहनोई युसूफ अजहर शामिल है। विदेश सचिव विजय गोखने ने बताया कि विश्वसनीय खुफिया जानकारी मिली थी कि 12 दिन पहले पुलवामा हमले को अंजाम देने के बाद जैश-ए-मोहम्मद भारत में एक और आत्मघाती आतंकी हमला करने की साजिश रच रहा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

जनजातियों की कला-संस्कृति, परंपरा एवं रीति-रिवाज समृद्ध : द्रौपदी मुर्मू

रांची : झारखंड की राज्यपाल सह कुलाधिपति द्रौपदी मुर्मू ने शुक्रवार को कहा कि जनजातियों की कला, संस्कृति, लोक साहित्य, परंपरा एवं रीति-रिवाज समृद्ध रही आगे पढ़ें »

अत्यधिक प्रोटीन लेना हो सकता है जानलेवा: रिपोर्ट

नई दिल्ली : स्वस्थ रहने की बात हो तो सबसे पहले प्रोटीन लेने की सोचते हैं। प्रोटीन से मांसपेशियां मजबूत होती है और साथ ही आगे पढ़ें »

ऊपर