बांके बिहारी समेत वृन्दावन के प्रसिद्ध मंदिर 31 जुलाई तक बंद

मथुरा (उप्र) : कोरोना वायरस संक्रमण के तेजी के बढ़ रहे मामलों के मद्देनजर वृन्दावन के विश्वप्रसिद्ध ठाकुर बांके बिहारी मंदिर एवं सप्तदेवालयों सहित सभी प्रमुख मंदिरों को 31 जुलाई तक श्रद्धालुओं के लिए बंद रखने का फैसला किया गया है। सभी मंदिरों में ठाकुरजी की सेवा-पूजा का कार्य वहां के प्रबंधकों एवं सेवायतों की उपस्थिति में पूर्ववत जारी रहेगा, लेकिन आम श्रद्धालुओं को मंदिर में प्रवेश की अनुमति नहीं रहेगी। जो श्रद्धालु ठाकुरजी का दर्शन-वंदन करना चाहते हैं, उनके लिए ऑनलाइन सेवा जारी रहेगी। भक्तजन मंदिर की वेबसाइट, फेसबुक, व्हाट्सऐप, इंस्टाग्राम और यूटूब आदि सोशल मीडिया मंचों पर ठाकुर जी के दर्शन कर सकेंगे। वृन्दावन के मंदिरों के प्रबंधकों एवं सेवायतों ने मंगलवार को ऑनलाइन आपात बैठक बुलाकर निर्णय लिया कि मंदिर आने वाली श्रद्धालुओं की भीड़ के नियंत्रण की जिम्मेदारी कोरोना वायरस संक्रमण के बीच सरकार द्वारा मंदिर प्रबंधन पर डाले जाने के मद्देनजर मंदिरों को फिलहाल न खोलना ही उचित होगा।

आम भक्तों के लिए न खोले जाने के पक्ष में नजर आए

ठाकुर बांके बिहारी मंदिर के प्रबंधक मुनीष कुमार शर्मा ने कहा, ‘हमने सेवायतों से सुझाव लिए कि कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं की भीड़ को कैसे नियंत्रित किया जा सकता है, लेकिन सभी सेवायत इस स्थिति में मंदिर को आम भक्तों के लिए न खोले जाने के पक्ष में नजर आए।’ उन्होंने बताया कि आम दर्शनार्थियों के लिए 31 जुलाई तक मंदिर के पट बंद रहेंगे। मंदिर प्रबंधन एवं सेवायतों को श्रद्धालुओं की भीड़ नियंत्रित करने के लिए जिला प्रशासन से कोई आश्वासन न मिलने के कारण मंदिरों के पट आम श्रद्धालुओं के लिए 30 जून तक बंद रखने का निर्णय लिया गया था और अब मंदिरों को 31 जुलाई तक नहीं खोले जाने का फैसला किया गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

12 अगस्‍त को दुनिया की पहली कोरोना वैक्‍सीन होगी पंजीकृत

वायरस टीके के लिए रूस की जल्दबाजी ने पश्चिम में चिंताएं बढायीं मॉस्को : दुनियाभर में जहां कोरोना वायरस के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हो आगे पढ़ें »

बीसीसीआई का दावा, यूएई में आईपीएल कराने को केंद्र सरकार की हरी झंडी

नयी दिल्ली : भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) को इस साल इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में कराने की मंजूरी मिल गयी है आगे पढ़ें »

ऊपर