बनिहाल कार धमाके के आरोप में एक कश्मीरी छात्र गिरफ्तार

भटिंडा : जम्मू-कश्मीर के बनिहाल में 30 मार्च को आत्मघाती बम हमले की साजिश में जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस ने मंगलवार को भटिंडा की सेंट्रल यूनिवर्सिटी ऑफ पंजाब से एक कश्‍मीरी छात्र को गिरफ्तार किया है। छानबीन में पाया गया कि यह छात्र बम धमाके की योजना में शामिल था हालांकि हमला सफल नहीं हो सका था।

एमएड की पढ़ाई कर रहा था आरोपी

मिली जानकारी के मु‌ताबिक 28 वर्षीय हिलाल अहमद भटिंडा की इस यूनिवर्सिटी से एमएड की पढ़ाई कर रहा है। आतंकवादियों ने 30 मार्च 2019 को बनिहाल में पुलवामा हमले की तर्ज पर एक सेंट्रो कार में विस्‍फोटक भरकर सीआरपीएफ काफिले पर हमले की योजना बनाई थी लेकिन धमाके से पहले ही वे विस्‍फोटकों से भरी कार छोड़कर भाग गए। हालांकि इस धमाके में कोई हताहत नहीं हुआ था। जांच पड़ताल में पाया गया कि इस घटना में हिलाल का भी हाथ था।

बनिहाल पुलिस ने कार धमाके के बाद आईपीसी की धाराओं 307, 120, 120ए, 121, 121ए, और विस्फोटक पदार्थ अधिनियम और गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम के तहत एफआईआर दर्ज कराई थी।

हमले में हिलाल की भूमिका की जांच

सूत्रों का कहना है कि हिलाल जम्‍मू-कश्‍मीर में आतंकवादी गतिविधियों और टेरर फंडिंग में शामिल था लेकिन अभी तक यह साफ नहीं हो पाया है कि हमले में हिलाल की क्‍या भूमिका थी। भटिंडा के एसएसपी नानक सिंह ने हिलाल की गिरफ्तारी की पुष्टि तो की है लेकिन उसके पीछे कारणों का ब्‍यौरा नहीं दिया। उन्‍होंने कहा, ‘ जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस के पास हिलाल के खिलाफ वॉरंट था, हमने तो सिर्फ गिरफ्तारी में मदद की है।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

मरकज में तबलीगी जमात में शामिल हुए बंगाल के 71 लोगों की पहचान कर ली गई है : ममता 

कोलकाता : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी  ने बुधवार को बताया कि कुल 71 लोग  बंगाल से निजामुद्दीन मरकज में शामिल होने के लिए आगे पढ़ें »

ममता ने प्रधानमंत्री को लिखा पत्र, मांगी 25 हजार करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता

कोलकाता : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बुधवार को पत्र लिखकर 25,000 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता मांगी है आगे पढ़ें »

ऊपर