बड़ी खबरः देश को मिली पहली स्वदेशी कोरोना वैक्सीन

नई दिल्लीः कोरोना महामारी के बीच देश को पहली स्वदेशी कोरोना वैक्सीन मिल गई है। एक्सपर्ट कमेटी की बैठक में शनिवार शाम को भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को मंजूरी देने का फैसला लिया गया। सूत्रों के मुताबिक, भारत बायोटेक की कोवैक्सीन को आपातकालीन उपयोग के लिए मंजूरी मिल गई है। फिलहाल, अभी एक्सपर्ट कमेटी की बैठक जारी है। कुछ ही देर में इसकी आधिकारिक घोषणा हो सकती है। इससे पहले कोविशील्ड को मंजूरी मिली थी। देश में कोरोना वैक्सीन के इस्तेमाल को अनुमति देने के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय के एसईसी की बैठक हुई। इस बैठक में सीरम इंस्टीट्यूट के वैक्सीन को अंतिम मंजूरी दी गई। इसके अलावा भारत बायोटेक के कोवैक्सीन को मंजूरी देने पर भी चर्चा हुई। बता दें कि एसईसी ही वैक्सीन के इस्तेमाल की प्राथमिक मंजूरी देती है। आज की बैठक में कोविशील्ड वैक्सीन के अन्य पहलुओं पर भी चर्चा की गई है।

फाइनल अप्रूवल मिलना था

साल 2021 के पहले दिन एक्सपर्ट कमेटी ने सीरम इंस्टीट्यूट द्वारा तैयार की जा रही ‘कोविशील्ड वैक्सीन’ के आपात इस्तेमाल को मंजूरी दे दी थी, जिसके बाद इसे डीजीसीआई यानी ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया द्वारा फाइनल अप्रूवल मिलना था। सूत्रों के मुताबिक इस बैठक में फाइजर, भारत बायोटेक और सीरम इंस्टीट्यूट तीनों को एक के बाद एक अपना-अपना प्रेजेंटेशन दिया। इन बैठकों में वैक्सीन कंपनियों से इनके उपयोग, प्रभाव और सफलता के बारे में जानकारी मांगी गई थी। आपको बता दें कि 2 जनवरी से देश के कई राज्यों में कोरोना वैक्सीन का ड्राई रन किया जा रहा है। इसे लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने एक समीक्षा बैठक भी की थी। इससे पहले पंजाब, असम, गुजरात और आंध्र प्रदेश में ड्राई रन किया गया था, जिसके रिजल्ट काफी सकारात्मक रहे थे। उत्तरप्रदेश में भी 2 जनवरी से 6 केन्द्रों पर कोविड वैक्सीन का ड्राई रन किया जाएगा।

क्या होता है ड्राई रन?

ड्राई रन, एक तरह से असली वैक्सीन को लाने-ले जाने और रखरखाव की नकली प्रक्रिया है। आसान शब्दों में समझें तो ड्राई रन के दौरान असली दवा की जगह दूसरी दवा या खाली शीशियों को ठीक उसी तरह से ट्रांसपोर्ट करना होगा जैसे असली दवा को किया जाना है। फिर उन्हें अस्पतालों में वैसे ही रखा जाता है जैसे असली दवा को रखा जाना है। एक तरह जितने भी स्टेप असली दवा के लिए उठाए जाते हैं उतने ही काम दूसरी दवा के लिए किए जाते हैं, ताकि अपनी तैयारियों का अनुमान लगाया जा सके।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

सियालदह फ्लाईओवर बंद होने से ट्रैफिक डायवर्सन

बहूबाजार व सियालदह इलाके में ट्रैफिक जाम की स्थिति लगी सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : ईस्ट वेस्ट मेट्रो के टनेलिंग निर्माण कार्य के लिए सियालदह फ्लाईओवर पर वाहनों आगे पढ़ें »

कोरोना के खिलाफ शुरु हुई जंग, वैक्सीन ने संभाला मोर्चा

राज्य के 207 केंद्रों में लगा कोविड-19 कोविशिल्ड का टीका कोलकाताः राज्य में शनिवार की सुबह कोविड-19 टीकाकरण अभियान शुरू हो गया, जिसमें कोविशिल्ड वैक्सीन राज्य आगे पढ़ें »

ऊपर