बड़ी कंपनियों के दूध, दही व अन्य उत्पाद जांच में मानकों पर खरे नहीं उतरे, पाई गई मिलावट

नई दिल्लीः दूध उत्पादों की गुणवत्ता को लेकर एक चौंकाने वाली रिपोर्ट सामने आई है। इस रिपोर्ट में अमूल, मदर डेयरी जैसे दूध उत्पाद ब्रांडों को सरकार के मानकों पर सही नहीं पाया गया है। दिल्ली सरकार की जांच रिपोर्ट में पाया गया कि दूध में पानी, पाऊडर की मिलावट की जा रही है। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने खुद यह जानकारी दी है।
21 सैंपल जांच में फेल
मंत्री ने बताया कि अप्रैल में शहर के अलग अलग इलाकों से दूध के जो 177 सैंपल उठाए गए थे, उनमें से 165 की रिपोर्ट आ गई है और 21 सैंपल फेल पाए गए हैं। इनमें खुले दूध के अलावा मदर डेयरी, अमूल के पैकेट भी हैं। दूध हालांकि नकली या सिंथेटिक नहीं था लेकिन दूध में पानी या मिल्क पाउडर मिलाने की बात कही गई है। दूध के अलावा एक घी का सैंपल भी टीम ने उठाया है। रिपोर्ट में साफ है कि इसमें भी मिलावट हुई है। इसकी अंतिम जांच रिपोर्ट आने का इंतजार किया जा रहा है। यह सैंपल खुले बाजार की एक दुकान से उठाया गया था। मंत्री ने बताया कि इस रिपोर्ट को ध्यान में रखते हुए दूध से बने सभी उत्पादों जैसे खोया और पनीर जैसे दुग्ध उत्पादों की भी जांच की जाएगी।
होगी कार्रवाई
मंत्री ने कहा कि किसी भी नमूनों में मिलावट मिलेगी है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। दिल्ली सरकार को इन मामलों में केस दर्ज करने के आदेश दिए गए हैं। मिलावट के मामले में कोर्ट में दोषियों को पेश करके पेनल्टी लगाई जाएगी। 5 हजार से 5 लाख तक की जुर्माने का प्रावधान है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

जनजातियों की कला-संस्कृति, परंपरा एवं रीति-रिवाज समृद्ध : द्रौपदी मुर्मू

रांची : झारखंड की राज्यपाल सह कुलाधिपति द्रौपदी मुर्मू ने शुक्रवार को कहा कि जनजातियों की कला, संस्कृति, लोक साहित्य, परंपरा एवं रीति-रिवाज समृद्ध रही आगे पढ़ें »

अत्यधिक प्रोटीन लेना हो सकता है जानलेवा: रिपोर्ट

नई दिल्ली : स्वस्थ रहने की बात हो तो सबसे पहले प्रोटीन लेने की सोचते हैं। प्रोटीन से मांसपेशियां मजबूत होती है और साथ ही आगे पढ़ें »

ऊपर