बड़ाबाजार के गणेश टॉकिज से मिला 81 वर्षीय कोरोना का संदिग्ध मरीज

corona

परिवार के 12 सदस्यों को भेजा गया राजारहाट क्वारेंटाइन सेंटर, इलाके को किया गया सैनिटाइज

दीपक रतन मिश्रा

सन्मार्ग संवाददाता,कोलकाता : महानगर में कोरोना संक्रमण तेजी से पांव पसार रहा है। अब यह बड़ाबाजार तक पहुंच गया है। शनिवार की देर रात गणेश टॉकिज इलाके में एक कोरोना का संदिग्ध मरीज पाया गया। उसे फिलहाल राजारहाट के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उसके परिवार के सभी 12 सदस्यों को राजारहाट क्वारेंटाइन सेंटर में भेज दिया गया है। स्थानीय प्रशासन व निगम की ओर से संदिग्ध मरीज के घर के आसपास के इलाके को सैनिटाइज किया गया। क्या है पूरा मामलाजानकारी के अनुसार गणेश टॉकिज इलाके में रहनेवाले एक 81 वर्षीय वृद्ध को शरीर में सोडियम सहित अन्य मिनरल की कमी पाये जाने के बाद बागबाजार के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वहां इलाज के दौरान वृद्ध को सांस लेने में तकलीफ होने लगी। इसी बीच डॉक्टरों ने उसका कोरोना टेस्ट कराया। सूत्रों के अनुसार प्राथमिक जांच में वृद्ध का कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया। हालांकि परिजनों को अस्पताल की ओर से कोई रिपोर्ट नहीं सौंपा गया। इसके बाद उक्त अस्पताल से वृद्ध को पहले बेलियाघाटा आईडी अस्पताल ले जाया गया। बेलियाघाटा आईडी अस्पताल में किसी कारणवश बेड नहीं मिलने पर उसे राजारहाट के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। इधर, स्वास्थ्य विभाग की ओर से शनिवार की रात एम्बुलेंस भेजकर वृद्ध के परिवार के 12 सदस्यों को राजारहाट क्वारेंटाइन सेंटर में भेजा गया। परिवार के सदस्यों की चिकित्सक जांच कर रहे हैं। वहीं वृद्ध का दोबारा कोरोना का जांच किया गया है। रिपोर्ट का इंतजार है। इधर, प्रशासन की ओर से वृद्ध के परिजनों और मकान में रहनेवाले अन्य लोगों पर नजर रखी जा रही है पुश्तैनी मकान में किरायेदारों के साथ रहता है वृद्धस्थानीय सूत्रों के अनुसार बीमार वृद्ध के तीन भाई हैं। इनमें से दो भाई शादीशुदा हैं और उनके तीन बच्चे हैं। वहीं एक भाई ने शादी नहीं की है। ऐसे में कुल 12 लोगों का परिवार मकान के पहले तल्ले पर रहता है। वहीं मकान के अन्य हिस्सों दर्जनों किरायेदार हैं, जो सालों से वहां रहते हैं। राजारहाट क्वारेंटाइन सेंटर भेजे गये वृद्ध के भतीजे ने बताया कि 30 मार्च को उन लोगों ने वृद्ध को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वृद्ध चल फिर नहीं सकता है। उन्हें कोरोना कहां से हुआ, यह उन्हें समझ में नहीं आ रहा है।
जब अफवाह बनी हकीकत तो लोगों के उड़े होश, इलाके के लोग हैं आतंकित
महानगर में कोरोना का पहला मरीज मिलने के बाद से बड़ाबाजार में अफवाहों का बाजार गर्म था। आए दिन सोशल मीडिया पर तस्वीर डालकर बड़ाबाजार में कोरोना के मरीज पाए जाने की अफवाह उड़ती थी। कुछ दिनों पहले पोस्ता पेट्रोल पंप के निकट बीमार भिखारी को अस्पताल ले जाने का वीडियो बनाकर उसे कोरोना मरीज बता दिया गया था। हालांकि शनिवार को गणेश टॉकिज में कोरोना का संदिग्ध मरीज मिलने के बाद स्थानीय लोगों के होश उड़ गए। लोगों को समझ में नहीं आ रहा है यह कैसे हो गया। रविवार की दोपहर तक अधिकतर लोगों को यह भी मामला अफवाह ही लग रहा था। क्योंकि जिस वृद्ध में कोरोना पॉजिटिव पाया गया, उसके मकान के नीचे स्थित दुकानें खुली थीं।
5 साल से मकान से बाहर नहीं निकला था वृद्ध
बड़ाबाजार में जिस वृद्ध को संदिग्ध कोरोना मरीज कहा जा रहा है कि उसके बारे में लोगों ने की अहम जानकारियां दी हैं। वृद्ध के मकान के नीचे चाय की दुकान चलानेवाले संजय कुमार ने बताया कि पिछले 5 साल से उक्त व्यक्ति मकान के नीचे उतरा ही नहीं है। कुछ साल पहले तक वह बाहर निकलते थे, लेकिन सांस लेने में तकलीफ होने के कारण उन्होंने घर से निकलना बंद कर दिया। ऐसे में उन्हें यह बीमारी कैसे हुई यह समझ नहीं आ रहा है। यहां पर प्रशासन की ओर से सैनिटाइजेशन भी किया जा रहा है। वहीं पास में दुकान चलानेवाले विशाल जायसवाल ने बताया कि उन्हें भी यह नहीं समझ में आ रहा है कि जो व्यक्ति वर्षों से बाहर नहीं निकला, उसे कैसे यह बीमारी हो गयी। विशाल के अनुसार वृद्ध को चलने-फिरने में दिक्कत थी। यही नहीं उनके परिवार में कोई भी व्यक्ति विदेश अथवा अन्य कई शहर नहीं गया था। ऐसे में संक्रमण कैसे फैला, यह समझ से परे है।
क्या कहना है पार्षद का
स्थानीय पार्षद इलोरा साहा ने बताया कि शनिवार की दोपहर 12 बजे उनके केएमसी के स्वास्थ्य विभाग से मैसेज आया कि उनके इलाके में एक संदिग्ध मरीज मिला है। वहां पर रहनेवाले लोगों का ध्यान रखा जाए। साथ सैनिटाइजेशन भी किया जाए। पार्षद ने बताया कि उन्होंने कुछ दिनों पहले ही इलाके को सैनिटाइज किया था। रात के वक्त संदिग्ध मरीज के परिजनों को क्वारेंटाउन सेंटर भेजा गया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

रजनीकांत की राजनीति में एंट्री

- 31 दिसंबर को करेंगे पार्टी का एलान चेन्नईः दक्षिण भारतीय फिल्मों के सुपरस्टार रजनीकांत ने आखिरकार नई पार्टी बनाने की घोषणा कर दी है। पार्टी आगे पढ़ें »

यूएन में भारत बोला- करतारपुर साहिब गुरुद्वारा का प्रबंधन हस्तांतरित करना यूएनजीए प्रस्ताव का उल्लंघन

नयी दिल्ली : भारत ने पाकिस्तान द्वारा पवित्र करतारपुर साहिब गुरुद्वारे का प्रबंधन मनमाने तरीके से गैर सिख इकाई को हस्तांरित करने का विरोध करते आगे पढ़ें »

ऊपर