फ्लाइट छूटने से बौखलाए कांग्रेस विधायक ने एयर इंडिया के स्टाफ से दुर्व्यवहार किया

रायपुरः छत्तीसगढ़ में एयर इंडिया का फ्लाइट छूटने से कांग्रेस विधायक इस कदर बौखला गए कि उन्होंने एयर इंडिया के स्टाफ से दुर्व्यवहार किया। छत्तीसगढ़ के महासमुद विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस विधायक विनोद चंद्राकर पर एयर इंडिया की स्टाफ के साथ दुर्व्यवहार करने का आरोप लगा है। घटना सात अगस्त को रायपुर एयरपोर्ट की है। विधायक ने ऐसा उस वक्त किया जब महिला स्टाफ ने उन्हें एयरपोर्ट देरी से पहुंचने पर विमान में चढ़ने से रोका। यह जानकारी एयर इंडिया ने अपने रिपोर्ट में दी है।
रिपोर्ट में लिखा है, “विमान में पांच यात्रियों को छोड़कर बाकी सभी सवार हो गए थे। यात्रियों के लिए इंतजार किया गया और कई बार घोषणा भी की गई।” एक यात्री ने सूचना दी और बताया कि अन्य लोग रास्ते में हैं। एयर इंडिया एयर ट्रांसपोर्ट सर्विसेज लिमिटेड (एआईएटीएसएल) प्रभारी, अन्य ग्राहक सेवा एजेंट (सीएसए) के साथ एयर इंडिया के एयरपोर्ट मैनेजर, रायपुर (महिला स्टाफ) ने भी उनका इंतजार किया। यात्री 18:13 बजे तक नहीं आए और सभी हवाई अड्डे के प्रबंधक (एपीएम) और अन्य लोग उड़ान भरने के लिए तैयार थे। एयर इंडिया की रिपोर्ट में कहा गया है कि उड़ान का दरवाजा 18:18 घंटे पर बंद हुआ और 18:30 बजे उड़ान भरी गई।”

विधायक ने सफाई दी
जब विधायक से उनपर लगे आरोपों पर बात की गई तो उन्होंने फोन पर कहा, “मैं एक विधायक हूं। मुझे पता है कि किसके साथ कैसे व्यवहार करना है। मैं 17:30 पर ही एयरपोर्ट पहुंच गया था।” उन्होंने सीसीटीवी की जांच कराने की भी बात कही। उन्होंने कहा, “मेरा सामान दो बार चेक किया गया। अपने सामान की सुरक्षा जांच के कारण, मैं 18:05 बजे अंतिम गेट पर पहुंचा। मेरा और मेरे स्टाफ के सामान की दो बार सुरक्षा जांच के कारण, हमें अंतिम गेट तक पहुंचने में देरी हुई। एयर इंडिया की महिला कर्मचारी मुझ पर चिल्ला रही थी और हमें उसमें सवार नहीं होने दिया।” हालांकि जांच रिपोर्ट में कहा गया है कि विधायक ही चिल्लाए थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

प्राकृतिक आपदा पर राजनीति न हो – धनखड़

चक्रवात प्रभावित इलाकों के हालात की करेंगे समीक्षा सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : राज्य सरकार और राज्यपाल के बीच गतिरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसी आगे पढ़ें »

9 साल बाद फिर प्रेसिडेंसी में चला ‘लाल’ का जादू

आईसी हुई छात्र संघ की सत्ता से बेदखल सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : प्रेसिडेंसी यूनिवर्सिटी में 2019 के छात्र संघ चुनाव में 9 साल बाद भारी मतों से आगे पढ़ें »

ऊपर