फिल्मी आतंकियों से फैली दहशत, मामला दर्ज

मुंबईः मुंबई के वसई क्षेत्र में लगे ‌फिल्म सेट के पास शहरी इलाके में आतंकियों की पोशाक में घूमते हुए कुछ लोगों को देखकर आसपास के निवासियों में खलबली मच गई। लोगों ने कुछ अनहोनी की आशंका देखकर तत्काल पुलिस को मामले से अवगत कराया। बताया जा रहा है कि यह सेट टाइगर श्रॉफ और ऋतिक रोशन के किसी आने वाली फिल्म का है। पुलिस ने इसके लिए स्पेशल ऑपरेशन चलाया और सेट पर आकर इन दो लोगों को पकड़ा तो पता चला कि ये तो इस फिल्म की शूटिंग पर आए कलाकार थे। पुलिस ने फिर भी केस दर्ज कर लिया है।

एटीएम गार्ड ने दर्ज कराई शिकायत

एक एटीएम गार्ड ने आतंकियों जैसे वेश में दो युवकों को दुकान से सिगरेट लेते देखा और घबराकर तुरंत पुलिस को सूचित किया। सूचना मिलते ही पुलिस ने सात थानों को अलर्ट कर दिया और सीसीटीवी से सुराग पाते हुए सेट पर पहुंचकर उन्हें धर दबोचा तब पता चला कि ये दो जूनियर आर्टिस्ट हैं जो फिल्म में आतंकवादियों का किरदार निभा रहे थे। प्रोडक्शन यूनिट ने पुलिस को अनुमति के कागज दिखाए, काफी समझाया कि कलाकारों से गलती हो गई, पर पुलिस ने ढील नहीं दी और धारा 188 के तहत केस दर्ज किया। उन्हें पुलिस ने आम लोगों के बीच भय पैदा करने और शांतिभंग करने का आरोपी माना है।

इन पर हुआ केस दर्ज

बलराम गिनवाला (23)–कलाकार , अरबाज खान (20)–कलाकार , हिमालय पाटिल–लोकेशन को-ऑर्डिनेटर (27),दत्ताराम लाड–यूनिट इंचार्ज (38)

शक होने का मुख्य कारण यह था कि दोनों ने काले रंग की पठानी सलवार कमीज और मिलिट्री प्रिंट की टीशर्ट पहनी थी। साथ ही दोनों की इस्लामिक कट्टरपंथियों जैसी लंबी दाढ़ी थी, अफगानी साफा भी लपेटा था। कमर पर कार्टिरेज बेल्ट था। वैन के प्रयोग के कारण पुलिस को बड़े हमले की आशंका थी।

आतंकियों को ढूंढ़ने में लगी 7थानों की टीमें

क्षेत्र में आतंकियों के मौजूदगी की जानकारी मिलते ही पुलिस ने कई थानों और कंट्रोल रूम को इसकी जानकारी दी। आतंकियों को ढूंढ़ने सात थानों की टीमें निकल पड़ी। एक घंटे तक सर्च ऑपरेशन चला। मानिकपुर पुलिस स्टेशन से आए सीनियर पुलिस इंस्पेक्टर राजेंद्र कांबले और उनकी टीम ने आसपास के क्षेत्र की तलाशी ली और सीसीटीवी की मदद से उस वैन का नंबर देखा जिसमें वे बैठे थे। छानबीन के दौरान दोनों कलाकारों की असलियत का पता चला। इस मामले को पुलिस ने गंभीरता से इसीलिए लिया, क्योंकि इस क्षेत्र के पास स्थित वसई खाड़ी का जुड़ाव सीधे अरब सागर से है। इस क्षेत्र में पहले भी कई बार घुसपैठ की कोशिशें की जा चुकी हैं। मुंबई शहर में हुए 9/11 अटैक के बाद से समुद्री रास्तों के आसपास किसी संदिग्ध के दिखने की सूचना को बेहद संजीदगी से लिया जाता है।

क्या है पूरा मामला

वसई में एक अनटाइटल्ड एक्शन फिल्म की शूटिंग के दौरान दृश्य को फिल्माने के लिए विशाल सेट लगा था। शूटिंग के लिए टीम सेट पर पहुंची थी और सभी कलाकारों को पोशाक में आने के लिए कहा गया। तभी दो जूनियर आर्टिस्ट जो आतंकवादियों का किरदार निभा रहे थे, शूटिंग से ब्रेक लेकर उसी पोशाक में सेट से बाहर शहरी इलाके में एक दुकान पर पहुंच गए। वे यहां- वहां घूम रहे थे। उनके कपड़े किसी को भी भय में डालने वाले थे। वे किसी मानव बम की तरह दिख रहे थे। बुलेट्स से भरी हुई स्ट्रिप उनकी कमर पर लगी हुई थी। इस दौरान एक एटीएम गार्ड ने इन्हें देखकर समझा कि क्षेत्र में आतंकी घुस आए हैं और खुले में घूम रहे है। उसने तत्काल पुलिस को सूचना दे दी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

मैच फीट के लिए चार चरण में अभ्यास करेंगे भारतीय क्रिकेटर : कोच श्रीधर

नयी दिल्ली : भारत के क्षेत्ररक्षण कोच आर श्रीधर का कहना है कि देश के शीर्ष क्रिकेटरों के लिए चार चरण का अभ्यास कार्यक्रम तैयार आगे पढ़ें »

नस्लभेद के खिलाफ आवाज बुलंद करे आईसीसी : सैमी

नयी दिल्ली : वेस्टइंडीज के पूर्व टी-20 कप्तान डेरेन सैमी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) और अन्य क्रिकेट बोर्डों से नस्लभेद के खिलाफ आवाज बुलंद आगे पढ़ें »

ऊपर