फरीदाबाद हत्याकांड: तो क्या लव जिहाद से जुड़ा है मामला?

फरीदाबादः फरीदाबाद के बल्लभगढ़ में सरेआम लड़की की हत्या का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। अब मामले में एक नया मोड़ आ गया है। परिजनों का आरोप है कि हत्या का आरोपी तौसीफ जबरन लड़की का धर्म परिवर्तन करवाना चाह रहा था। ऐसा करने में असफल रहने के बाद उसने पहले अपहरण करने का प्रयास किया और नाकाम रहने पर लड़की की गोली मारकर हत्या कर दी। इसके बाद हत्या से गुस्साई भीड़ ने मंगलवार को एक दुकान तोड़ दी और हंगामा किया। मौके पर मौजूद पुलिस ने लोगों को तुरंत शांत करा दिया। इसके बाद गुस्साई भीड़ ने सड़क को जाम कर दिया है। लड़की का परिवार भी सड़क पर बैठा है। मृतका निकिता के परिवार का कहना है कि यह लव जिहाद का मसला है।
विकास दुबे जैसा एनकाउंटर
हमने अधिकारियों के सामने अपनी मांग रख दी है। वहीं, मां का कहना है कि मेरी बेटी की तरह ही दोषियों का एनकाउंटर किया जाए। जब तक एनकाउंटर नहीं किया जाता, तब तक मैं अपनी बेटी का अंतिम संस्कार नहीं करूंगी। पुलिस ने मुख्य आरोपी तौफीक को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि 2018 में भी निकिता के परिजनों ने तौफीक के खिलाफ केस दर्ज कराया गया था, लेकिन बाद में मामला सुलझ गया था।
क्या है पूरा मामला?
देश की राजधानी दिल्ली से सिर्फ 63 किलोमीटर दूर हरियाणा के बल्लभगढ़ में दिनदहाड़े कार सवार बदमाश सड़क पर गाड़ी रोकते हैं और लड़की को कार में खींचने लगते हैं। लड़की के साथ उसकी सहेली भी है। वो भी विरोध करती है, लेकिन इन हैवानों को कोई डर नहीं, कोई परवाह नहीं। लड़की विरोध करती है, तो बदमाश पिस्टल निकाल कर धमकाने लगते हैं, जब लड़की फिर भी नहीं डरती है तो बदमाश गोली दाग देता है। मृतक छात्रा का नाम निकिता है। वो बीकॉम फाइनल ईयर की परीक्षा देकर बल्लभगढ़ के अग्रवाल कॉलेज से लौट रही थी। शाम का वक्त था, तभी आई20 कार रूकी और कार सवार बाहर आकर निकिता को कार में बिठाने लगा। ड्राइविंग सीट पर दूसरा बदमाश था। वो पहले तमाशा देखता रहा। व्यस्त सड़क पर बाकी लोग भी तमाशबीन ही बने रहे। लड़की को गोली मारकर बदमाश फरार हो गए। हत्या के बाद हड़कंप मच गया। घंटों की मशक्कत के बाद पुलिस ने इस मामले में मुख्य आरोपी तौफीक को गिरफ्तार कर लिया, लेकिन दूसरा अब भी पकड़ से बाहर है। तौफीक, हरियाणा के मेवात का रहने वाला है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

हाईकोर्ट में याचिका निपटने तक अर्नब गोस्वामी की जमानत जारी रहेगी- सुप्रीम कोर्ट

-पुलिस एफआईआर में लगाए गए आरोप नहीं हुए साबित नयी दिल्ली : शीर्ष न्यायालय ने शुक्रवार को आत्महत्या के लिए कथित तौर पर उकसाने के 2018 आगे पढ़ें »

लालू को आज भी नहीं मिली जमानत, अब इस दिन होगी सुनवाई

पटनाः राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को जमानत के लिए अभी और इंतजार करना होगा। अब झारखंड हाईकोर्ट में 11 दिसंबर को आगे पढ़ें »

ऊपर