प्रधानमंत्री मोदी ने बिहार में करोड़ों की परियोजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास किया

 

पटना : बिहार में विधानसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को बिहार में नमामि गंगे से जुड़ी 543.28 करोड़ की परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया, जिसमें पटना की बेउर और कर्मलीचक सीवर ट्रीटमेंट प्लांट के अलावा सीवान, छपरा, से जुड़ी परियोजनाएं शामिल हैं। इस दौरान प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि राष्ट्रनिर्माण के इस काम में बहुत बड़ा योगदान बिहार का भी है, यह राज्य तो देश के विकास को नई ऊंचाई देने वाले लाखों इंजीनियर देता है। मालूम हो कि पिछले कुछ दिनों में मोदी बिहार के लोगों को कई बार संबोधित कर चुके हैं। इतना ही नहीं करीब 10 दिन के अंतराल में बिहार को केंद्र की तरफ से करीब 16 हजार करोड़ रुपये की योजनाओं की सौगात भी मिल रहा है।

बिहार के लोगों ने दशकों तक दर्द सहा है

प्रधानमंत्री ने कहा, सड़कें हो, गलियां हों, पीने का पानी हो, ऐसी अनेक मूल समस्याओं को या तो टाल दिया गया या फिर जब भी इनसे जुड़े काम हुए वो घोटालों की भेंट चढ़ गए। जब शासन पर स्वार्थनीति हावी हो जाती है, वोटबैंक का तंत्र सिस्टम को दबाने लगता है, तो सबसे ज्यादा असर समाज के उस वर्ग को पड़ता है, जो प्रताड़ित है, वंचित है, शोषित है। बिहार के लोगों ने इस दर्द को दशकों तक सहा है।

सभी इंजीनियरों व उनकी निर्माध शक्ति को नमन करता हूं

मोदी ने कहा कि आज इंजीनियर्स डे है। भारतीय इंजीनियरों की अपनी अलग पहचान है। वे देश के विकास को गति दे रहे हैं। सभी इंजीनियरों व उनकी निर्माध शक्ति को नमन करता हूं। साथ ही उन्होंने कहा कि आज जिन चार योजनाओं का उद्धाटन हो रहा है उसमें पटना शहर के बेउर और करमलीचक में सीवर ट्रीटमेंट प्लांट के अलावा अमृत योजना के तहत सीवान और छपरा में पानी से जुड़ी परियोजनाएं भी शामिल है। इसके अलावा मुंगेर और जमालपुर में पानी की कमी को दूर करने वाली जलापूर्ति परियोजनाओं और मुजफ्फरपुर में नमामि गंगे के तहर रिवर फ्रंट डेवलेपमेंट स्कीम का भी आज शिलान्यास किया गया है। शहरी गरीबों, शहरों में रहने वाले मध्यम वर्ग के लोगों का जीवन आसान बनाने वाली आज शुरु हुई नई परियोजनाओं के लिए आपको बहुत-बहुत बधाई देता हूं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

क्यों कर रहे हैं कांग्रेस और समान विचारधारा वाले दल राज्यसभा के मानसून सत्र का बहिष्कार ?

कांग्रेस, डीएमके, तृणमूल कांग्रेस, आरजेडी, शिवसेना, लेफ्ट और आप राजनीतिक दलों ने तय किया कि वे राज्यसभा की मानसून सत्र का बहिष्कार करेंगे। बाद में आगे पढ़ें »

India Nepal kalapani map

भारतीय क्षेत्र को अपने संशोधित नक्शे में दर्शाने वाली विवादित किताबों का वितरण नेपाल ने रोका

काठमांडू: नेपाल ने उन नई किताबों का वितरण रोक दिया है जिसमें तीन रणनीतिक रूप से महत्वपूर्ण भारतीय क्षेत्रों को अपने भूभाग के रूप में आगे पढ़ें »

ऊपर