प्रधानमंत्री मोदी ने केदारनाथ में की पूजा-अर्चना, विकास कार्यों का लिया जायजा

देहरादून : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को उत्तराखंड की दो दिवसीय यात्रा पर केदारनाथ पहुंचे। उन्होंने भगवान शिव का रूद्राभिषेक कर उनकी आराधना की। करीब आधे घंटे चली इस पूजा के बाद प्रधानमंत्री ने मंदिर की परिक्रमा की और श्रद्धालुओं का हाथ हिलाकर अभिवादन किया। प्रधानमंत्री ने केदारनाथ क्षेत्र में विकास कार्यों का जायजा भी लिया। प्रधानमंत्री का केदारनाथ में चल रहे पुनर्निर्माण कार्यों की समीक्षा करने का भी कार्यक्रम है। वे रात्रि विश्राम भी केदारनाथ में ही करेंगे। बताते चलें कि, प्रधानमंत्री हेलीकॉप्टर से उतरने पर स्लेटी रंग के पहाड़ी परिधान और पहाड़ी टोपी पहने और कमर में केसरिया गमछा बांधे दिखाई दिए।
रविवार को जायेंगे बद्रीनाथ
मोदी रविवार को बद्रीनाथ जायेंगे। प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (कानून और व्यवस्था) अशोक कुमार ने बताया कि प्रधानमंत्री की सुरक्षा के मद्देनजर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गयी है।
उत्तराखंड की राज्यपाल व मुख्यमंत्री ने की अगवानी
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने बताया कि मोदी के आगमन से उत्तराखंड की जनता और भाजपा बहुत उत्साहित है। प्रधानमंत्री के इस दौरे का मकसद पूरी तरह से आध्यात्मिक है। इससे पहले, प्रधानमंत्री मोदी अपने दो दिवसीय उत्तराखंड प्रवास पर यहां के निकट जौलीग्रांट हवाई अड्डे पहुंचे जहां उत्तराखंड की राज्यपाल बेबी रानी मौर्य और मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उनकी अगवानी की।
मोदी की केदारनाथ की चौथी यात्रा
यह पहली बार है जब प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी केदारनाथ में ही रात्रि विश्राम करेंगे। लिहाजा सुरक्षा व्यवस्था को चाक-चौबंद रखा गया है। मोदी पिछले साल नवंबर में भी केदारनाथ पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने जवानों के साथ दिवाली भी मनाई थी। 2017 में भी दो बार (मई और अक्टूबर) वे केदारनाथ पहुंचे थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

आज इन शेयरों में बढ़त इन शेयरों में गिरावट आई, जानिए रूपये का हाल

नई दिल्ली : भारतीय शेयर बाजार वैश्विक संकेतों के चलते आज लगभग 0.25 फीसदी की गिरावट के साथ 36472. 33 पर खुला। वहीं निफ्टी लगभग आगे पढ़ें »

rajeev-kumar

राजीव पर शिकंजा कसने आ रहे हैं ‘स्पेशल 12’

सप्ताह भर के अंदर कार्रवाई होगी पूरी : सीबीआई सूत्र अलीपुर कोर्ट में कैविएट दायर किया राजीव कुमार ने सीबीआई जारी करा सकती है वारंट सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : आगे पढ़ें »

ऊपर