पुरी ने 10-10 लाख रुपए मुआवजे देने का किया ऐलान, राज्य सरकार भी देगी इतना ही मुआवजा

कोझिकोड: नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने शनिवार को कहा कि वह एक दिन पहले हुए एअर इंडिया एक्सप्रेस विमान दुर्घटना के बाद की स्थिति एवं राहत कार्यों का जायजा लेने कोझिकोड पहुंचे। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि वह ‘नागर विमानन के वरिष्ठ अधिकारियों और पेशेवरों’’ के साथ विचार-विमर्श करेंगे। पुरी ने मृतकों के परिवारों को 10-10 लाख रुपए और गभीर घायलों को 2-2 लाख रुपए मुआवजा देने का ऐलान किया है। जिन्हें मामूली चोटें आई हैं उन्हें 50-50 हजार रुपए दिए जाएंगे।उधर, केरल सरकार ने भी मृतकों के परिवारों को 10-10 लाख रुपए मुआवजा देने का ऐलान किया है।

डीएफडीआर और सीवीआर बरामद

पुरी ने ट्वीट किया, ‘दुर्घटनाग्रस्त हुए विमान का डिजिटल फ्लाइट डेटा रिकॉर्डर (डीएफडीआर) और कॉकपिट वॉयस रिकॉर्डर (सीवीआर) बरामद कर लिया गया है। विमान दुर्घटना जांच ब्यूरो जांच कर रहा है।’ शुक्रवार को शाम सात बजकर 40 मिनट पर, दुबई से 190 लोगों के साथ आ रहा एअर इंडिया एक्सप्रेस का एक विमान शुक्रवार रात भारी बारिश के बीच कोझिकोड हवाईअड्डे पर उतरने के दौरान हवाईपट्टी से फिसलने के बाद 35 फुट गहरी खाई में जा गिरा और उसके दो टुकड़े हो गए। विमान में सवार कम से कम 18लोगों की मौत हो गई।

दिल्ली भेजा जाएगा

डीजीसीए के एक अधिकारी ने कहा कि ये उपकरण (डीएफडीआर और सीवीआर) विमान दुर्घटना जांच ब्यूरो के पास हैं और इन्हें आगे की जांच के लिए दिल्ली भेजा जाएगा। पुरी ने ट्वीट किया, ‘कल शाम हुए हवाई हादसे के बाद राहत कार्यों के क्रियान्वयन एवं स्थिति का जायजा लेने के लिए कोझिकोड पहुंचा हूं।’ मंत्री ने कहा, ‘कल शाम कोझिकोड में हुए विमान हादसे में जान गंवाने वाले 18 लोगों के परिवार एवं दोस्तों के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं।’ उन्होंने कहा कि दुर्घटना के कारणों की जांच की जा रही है।
10-10 लाख रुपए मुआवजा देने का ऐलान
एविएशन मिनिस्टर हरदीप सिंह पुरी ने मृतकों के परिवारों को 10-10 लाख रुपए और गभीर घायलों को 2-2 लाख रुपए मुआवजा देने का ऐलान किया है। जिन्हें मामूली चोटें आई हैं उन्हें 50-50 हजार रुपए दिए जाएंगे।पुरी ने कहा कि यह विमान हमारे सबसे अनुभवी कमांडर, कैप्टन दीपक साठे उड़ा रहे थे। वे इस एयरपोर्ट पर 27 बार लैंडिंग कर चुके थे। उन्होंने कहा कि 10 साल पहले इसी एयरपोर्ट पर लैंडिंग के दौरान विमान में आग लग गई थी। उसके बाद किए गए सुरक्षा उपायों की वजह से ही इस हादसे में मौतें कम हुईं।
लैंडिंग के समय आ रहा था तूफान
ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में एविएशन और मीटियरोलॉजी (मौसम विज्ञान) के एक्सपर्ट साइमन प्राउड ने दावा किया है कि हादसे के समय करिपुर में तेज तूफान आ रहा था। उन्होंने इसकी पुष्टि के लिए सैटेलाइट डेटा भी साझा किया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

मरीज था वेंटिलेटर पर, मिनरल वाटर का भी बनाया बिल

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः ढाकुरिया स्थित एक निजी हॉस्पिटल में भर्ती 74 साल के मरीज के परिजनों ने वेस्ट बंगाल क्लिनिकल इस्टेब्लिशमेंट रेग्युलेटरी कमिशन में अधिक बिल आगे पढ़ें »

सोशल मीडिया के जरिये आज राजीव करेंगे ‘मन की बात’

सोशल मीडिया पर राजीव के समर्थक दे रहे हैं सुझाव, सोच-समझ कर निर्णय करें हावड़ा : राज्य के मंत्री राजीव बनर्जी आज फेसबुक लाइव होनेवाले हैं। आगे पढ़ें »

ऊपर