पिछले पांच-छह साल में बढ़े हैं दलितों पर अत्याचार : प्रशांत भूषण

नयी दिल्ली : भीम आर्मी द्वारा आयोजित संवाददाता सम्मेलन में सामाजिक कार्यकर्ता व वकील प्रशांत भूषण ने सोमवार को आरोप लगाया कि पिछले पांच-छह साल में दलितों के खिलाफ अत्याचार बढ़े हैं। खासकर, जिन राज्यों में भाजपा का शासन है वहां वहां निर्ममता पूर्वक उनकी पिटाई की गयी। मुद्दे के खिलाफ लड़ने वाले पक्षों को केंद्र ‘चुप’ कर रहा है। दलित अत्याचार के खिलाफ आवाज उठायेंगे। पहले दलित पार्टी बसपा अत्याचार के खिलाफ लड़ती थी। सरकार ने उनके नेताओं के खिलाफ मामले दर्ज उन्हें चुप कर दिया। इसके बाद चंद्रशेखर आजाद ने भीम आर्मी बनायी और दलितों की आवाज बनने लगे तो केंद्र और उत्तर प्रदेश सरकार ने भीम आर्मी को कुचलने की साजिश रची। आजाद को राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत गिरफ्तार किया गया और उन्हें रैलियों में जाने की अनुमति नहीं दी गयी। भीम आर्मी के प्रतिनिधियों ने आरोप लगाया कि सहारनपुर में बाबासाहेब आंबेडकर की प्रतिमा तोड़े जाने का विरोध करने पर आजाद के परिवार के सदस्यों पर मामला दर्ज किया गया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सड़क हादसे में बीडीओ की मौत, मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने जताया शोक

कोलकाता : पश्चिम बंगाल के दक्षिण दिनाजपुर जिले में कार्यस्थल पर लौट रहे एक खंड विकास अधिकारी की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई। पुलिस आगे पढ़ें »

कैबिनेट सचिव ने बंगाल में राहत अभियानों की समीक्षा की

नयी दिल्ली : कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने आज यहां राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन समिति की बैठक में पश्चिम बंगाल में चक्रवाती तूफान अम्फान के बाद आगे पढ़ें »

ऊपर