पायलट बोले : जो लफ्ज मुझे कहे गए, उनसे दुख हुआ, गहलोत बोले : दिल जीतने की कोशिश करूंगा

जयपुर : राजस्थान की सियासी उठापटक पर विराम लग गया। 33 दिन बाद मंगलवार को दिल्ली से सचिन पायलट जयपुर लौट गए। शाम को जयपुर स्थित अपने आवास के बाहर मीडिया से बातचीत में सचिन ने कहा, ‘राजद्रोह के मामले में मुझे एक नोटिस मिला था। उस आपत्ति को और पिछले कुछ सालों के घटनाक्रम को लेकर दिल्ली गया था। इसके बाद लगातार बहुत-सी ऐसी हुईं, जो सकारात्मक नहीं थी। हमारा एक भी एक्शन पार्टी के खिलाफ नहीं रहा। हम पर तमाम आरोप लगे। अफवाहें फैलाई गईं। मेरे बारे में ऐसी बातें बोली गईं जिन्हें सुनकर दुख और आश्चर्य हुआ। इसके बावजूद मैं घूंट पीकर रह गया।’
राजनीति में निजी बैर की जगह नहीं होनी चाहिए : पायलट
पायलट बोले-मुझे लगता है कि जो कहा गया, उसे भूल जाना चाहिए। राजनीति में निजी बैर की जगह नहीं होनी चाहिए। काम केवल मुद्दों और पॉलिसी के आधार पर होना चाहिए।
दिल जीतने की कोशिश करूंगा : गहलोत
उधर, पायलट की कांग्रेस में वापसी के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी मीडिया से बात की। गहलोत ने कहा कि सीएम होने के नाते यह मेरी जिम्मेदारी है कि अगर मेरे विधायक मुझसे खफा हैं तो मैं उनका दिल जीतूं। मैं कोशिश करूंगा कि यह पता लगा सकूं कि उनसे क्या वादे किए गए थे और वो क्यों शिकायत कर रहे हैं?

शेयर करें

मुख्य समाचार

पायल से जुड़ा मीटू केस : अनुराग के समर्थन में आयीं उनकी पूर्व पत्नी और कई अन्य कलाकार

मुंबई : फिल्म निर्देशक अनुराग कश्यप पर अभिनेत्री पायल घोष के यौन उत्पीड़न के आरोप के बाद उनकी पूर्व पत्नी और फिल्म एडिटर आरती बजाज, आगे पढ़ें »

आमूलचूल परिवर्तन लायेंगे संसद में पारित कृषि क्षेत्र से संबंधित विधेयक : मोदी

नयी दिल्ली : विपक्ष तथा किसानों के जबरदस्त विरोध के बीच संसद में आज पारित कृषि क्षेत्र से संबंधित विधेयकों पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आगे पढ़ें »

ऊपर