नेपाल में प्रधानमंत्री केपी ओली की कुर्सी खतरे में

नयी दिल्ली : भारत-चीन तनाव के बीच  नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली की कुर्सी खतरे में आय गयी है। कम्युनिस्ट पार्टी के दूसरे अध्यक्ष पुष्प कमल दहल ‘प्रचंड’ सहित वरिष्ठ नेताओं ने ओली से इस्तीफा मांग लिया है। स्टैंडिंग कमिटी के एक सदस्य के मुताबिक, दहल, माधव कुमार नेपाल, झालानाथ खनल और बामदेव गौतम ने कहा कि ओली सरकार चलाने में नाकाम रहे हैं, इसलिए पद छोड़ें। ओली से प्रधानमंत्री के अलावा पार्टी अध्यक्ष का पद भी छोड़ने को कह दिया गया है। बता दें कि केपी शर्मा ओली की सरकार विवादों के घेरे में है। कुशासन, भ्रष्टाचार और अब कोरोना को लेकर असफलता को लेकर ओली जनता और विपक्ष के साथ ही पार्टी के दूसरे नेताओं के निशाने पर रहे हैं। ओली ने भारतीय इलाकों को शामिल करते हुए देश का नया नक्शा जारी किया। उन्होंने राष्ट्रवाद के सहारे अपने खिलाफ उठती आवाजों को दबाने की कोशिश की है लेकिन वे अपनी कुर्सी नहीं बचा पाएंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

शिवसेना पश्चिम बंगाल में नहीं लड़ेगी चुनाव, तृणमूल को दिया समर्थन

बंगाल इकाई ने अलग किये रास्ते तृणमूल ने किया शिव सेना के फैसले का स्वागत कोलकाता : राष्ट्रीय जनता दल और समाजवादी पार्टी के बाद शिव सेना आगे पढ़ें »

ईसीएल ने 500 टन कोयला चोरी का पता लगाया था लेकिन कार्रवाई नहीं हुई

कोयला तस्करी मामले में रेलवे के वरिष्ठ अधिकारियों से सीबीआई ने की घंटों पूछताछ कोलकाता : ईस्टर्न कोलफिल्ड्स लिमिटेड (ईसीएल) के सतर्कता दल ने शिल्पांचल की आगे पढ़ें »

ऊपर