नीतीश कुमार को कांग्रेस से आया बुलावा

नईदिल्लीः नीतीश कुमार के अच्छे दिन आ गए है। उन पर मेहरबानियों का पिटारा सा खुल गया है। नीतीश कुमार को एक बार फिर से महागठबंधन में शामिल होने का ऑफर मिला है। इस बार बिहार प्रदेश कांग्रेस की तरफ से उन्हें ये प्रस्ताव है कि अगर वे भाजपा से नाता तोड़ लें, तो बाकी लोगों को राजी कर उन्हें महागठबंधन में शामिल करने पर विचार किया जा सकता है। कांग्रेस का यह ऑफर ऐसे समय में आया है जब पिछले कुछ दिनों से बीजेपी और जेडीयू के बीच बिहार में लोकसभा की सीट के बटवारे को लेकर परस्पर विरोधाभासी बयान आ रहे हैं और यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि बिहार में बीजेपी और जेडीयू के बीच सबकुछ ठीक नहीं है। मालूम हो कि अगले साल लोकसभा का चुनाव होना है। सभी राजनीतिक दल अभी से अपने-अपने तरीके से चुनावी शतरंज की गोटियां बिछाने पर लग गए हैं। इसीलिए कांग्रेस कोई मौका भी मौका नहीं छोड़ते हुए बिहार के मुख्यमंत्री और जेडीयू अध्यक्ष नीतीश कुमार को महागठबंधन में आने का बड़ा ऑफर दिया है।
सीट बंटवारे को लेकर मनमुटाव हुआ
जेडीयू ने कहा था कि वो लोकसभा की 40 सीटों में से 25 सीटों पर वो अपने उम्मीदवार खड़ा करेगी जबकि 15 सीटें बीजेपी को देगी। जेडीयू ने एनडीए के दूसरे सहयोगी मसलन – रालोद और लोजपा का नाम नहीं लिया था। आपको बता दें कि लोकसभा में इस समय लोकजन शक्ति पार्टी के छह सदस्य हैं जबकि आरएलएसपी के तीन विधायक हैं। राजनीतिक गलियारे में यह भी चर्चा है कि सीट बंटवारे पर मनमुटाव के चलते ही रालोसपा अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा नाराज हैं और उन्होंने पटना में 7 जून को एनडीए के डिनर पार्टी में हिस्सा तक नहीं लिया।

कांग्रेस राष्ट्रीय प्रवक्ता शक्ति सिंह गोहिल ने क्या कहा
कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता शक्ति सिंह गोहिल ने कहा है कि नीतीश कुमार अब बीजेपी के साथ गठबंधन में हैं। अगर नीतीश कुमार अपना विचार बदलते हैं और बिहार में बीजेपी के साथ गठबंधन तोड़ देते हैं तो महागठबंधन उनके बारे में सोचेगा। अगर सचमुच में ऐसा संभव हो पाता है तो महागठबंधन के दलों से इस बारे में बातचीत की जाएगी। अगला लोकसभा चुनाव राहुल गांधी के चेहरे पर लड़े जाने को लेकर एक सवाल के जवाब में गोहिल ने कहा कि नरेंद्र मोदी और राहुल गांधी की कोई तुलना नहीं है। राहुल जी सच के लिए लड़ रहे हैं। आने वाले चुनाव में भारत की जनता राहुल गांधी के नेतृत्व में नरेंद्र मोदी को सबक सिखाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि महागठबंधन में बिहार में सीटों के बंटवारे को लेकर कोई परेशानी नहीं आएगी।
कांग्रेस के रुख पर राजद ने साधी चुप्पी
इससे पहले ही राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा था कि नीतीश कुमार के साथ गठबंधन का रास्ता पूरी तरह बंद हो गया है। लेकिन कांग्रेस के रुख पर राजद की कोई प्रतिक्रिया नहीं आई।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

ओडिशा के तीन हवाई अड्डे उड़ान योजना में हुए शामिल

नई दिल्ली : केंद्र सरकार के उड़ान योजना के तहत ओडिशा के तीन हवाई अड्डों को क्षेत्रीय संपर्क योजना 'उड़ान' में शामिल करने को लेकर आगे पढ़ें »

unnao

प्रशासन से आश्वासन मिलने के बाद उन्नाव बलात्कार पीड़िता के अंतिम संस्कार के लिए राजी हुआ परिवार

उन्नाव : उत्तर प्रदेश के उन्नाव में आग के हवाले की गई बलात्कार पीड़िता के परिवार ने लखनऊ मंडलायुक्त और अन्य वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की आगे पढ़ें »

ऊपर