देश चीन के खिलाफ, बीसीसीआई-आईपीएल ने चीनी कंपनियों को बना रखा प्रायोजक : उमर अब्दुल्ला

श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने चीनी प्रायोजकों को बनाए रखने पर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बॉर्ड और आईपीएल समिति पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्हें उन लोगों के लिए बुरा लग रहा है जिन्होंने बालकनी से चीनी टेलीविजन फेंक कर तोड़ दिए थे। लद्दाख में चीन से लगने वाली वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के पास गलवान घाटी में चीनी सैनिको के साथ झड़प में 20 भारतीय सैनिकों के शहीद होने के बाद कई राजनितिक पार्टियों ने लोगों से चीन का सामान बहिष्कार करने की अपील की थी और इसके घटना के बाद कुछ लोगों ने चीनी टेलीविजन भी तोड़ दिए थे।
चीन हमारे नाक में घुस आया
इसी घटना को लेकर अब्दुल्ला ने ट्वीट कर कहा, ‘बीसीसीआई और आईपीएल परिषद ने चीन के सभी प्रायोजकों को बनाये रखने का निर्णय लिया है जिसमें बड़े प्रायोजक भी शामिल है। मुझे तो उन मूर्खों के लिए बुरा लग रहा है जिन्होंने अपनी घरों से चीनी टेलीविजन फेंक दिए थे।’ उन्होंने कहा, ‘ चीन की मोबाईल फोन निर्माता कंपनी अभी भी आईपीएल की शीर्ष प्रायोजक रहेगी जबकि लोगों ने चीन के सामान को बहिष्कार करने की अपील की गयी है। चीन हमारे नाक में घुस आया है और हम इस उलझन में है कि चीन के निवेश,पैसे, प्रायोजकों और विज्ञापनों को किस तरह से संभाले।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

रजत में बदल सकता है गावित का 1000 मीटर का एशियाई चैंपियनशिप का कांस्य

नयी दिल्ली : भारत के लंबी दूरी के धावक मुरली कुमार गावित का पिछले साल एशियाई एथलेटिक्स चैंपियनशिप में जीता गया कांस्य पदक रजत पदक आगे पढ़ें »

बोपन्ना – शापोवालोव की जोड़ी इटालियन ओपन के क्वार्टर फाइनल में

रोम : भारत के रोहन बोपन्ना और कनाडा के डेनिस शापोवालोव की जोड़ी ने गुरुवार को यहां जुआन सेबेस्टियन काबेल और राबर्ट फराह की शीर्ष आगे पढ़ें »

ऊपर