दंतेवाड़ा में दो नक्सली ढेर, भाजपा विधायक मंडावी की हत्या के मास्टर माइंड के मारे जाने की खबर

दंतेवाड़ा: भाजपा विधायक भीमा मंडावी के काफिले पर कथित तौर पर हमले के मास्टर माइंड समेत सुरक्षाबलों ने दो नक्सलियों को ढेर कर दिया। सुरक्षाबलों ने नक्‍सलियों की पहचान करने के बाद बताया कि एक मंडावी के काफिले पर हमले का मास्टर माइंड है वहीं दूूसरा नक्सली एसीएम वर्गिस जिसपर पांच लाख का इनाम था। तलाशी में नक्सलियों के पास से एक 315 और एक बंदूक बरामद हुई।

गश्त के दौरान सुरक्षाबलों पर गोलीबारी

दंतेवाड़ा जिले के अधिकारी ने गुरुवार को बताया कि छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित दंतेवाड़ा जिले के कुवाकोंडा थाना क्षेत्र के धनिकरका और दुवालीकरका के जंगलों में हुई मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने दो नक्सलियों को मार गिराया। अधिकारियों ने बताया कि कुवाकोंडा थाना क्षेत्र में डीआरजी और जिला बल का संयुक्त दल गश्त के दौरान नक्सलियों ने पुलिस पर गोलीबारी शुरू कर दी। इसके बाद पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की।

मंडावी की हत्या में शामिल होने की शंका ‌

वर्गिस बड़े नक्सली कमांडरों में से एक था जो कई हमलों का मास्टरमाइंड रहा है। हालांकि, डीआईजी सुंदरराज पी ने कहा कि नक्सली वर्गीस भीमा मंडावी की हत्या में सीधे तौर पर शामिल था या नहीं, इसकी जांच की जा रही है। लेकिन ये तय है कि जिस इलाके में भीमा मंडावी पर हमला किया गया, वो मालांगीर एरिया कमेटी का इलाका है, जहां का वर्गीस क्षेत्रिय सदस्य था। इसके अलावा घटनास्थल से एक भारी मात्रा में बंदूक और एक 315 बोर बंदूक बरामद हुई है। जबकी मुठभेड़ में एक नक्सली घायल हो गया है।

बता दें कि पहले चरण के मतदान से 2 दिन पहले 9 अप्रैल को इसी इलाके में नक्सलियों ने मंडावी के काफिले पर आईईडी से हमला किया था। इसमें मंडावी और उनके ड्राइवर की मौत हो गई थी। उनकी सुरक्षा में तैनात 3 जवान भी शहीद हुए थे।नक्सलियों ने नकुलनार से करीब दो किमी दूर श्यामगिरी से गुजर रहे भाजपा विधायक की गाड़ी को विस्फोट से उड़ा दिया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

एसबीआई बैंक ने एमसीएलआर रेट में 0.10 फीसद कटौती की

नई दिल्ली : आज एसबीआई बैंक ने सभी अवधि के लोन पर एमसीएलआर रेट में 0.10 फीसद कटौती की घोषणा की है, जिसके बाद एक आगे पढ़ें »

उंगलियां चटकाने की आदत बढ़ा सकती है आपकी परेशानी,पढ़ें

नई दिल्ली : बहुत से लोगों को उंगलियां चटकाने की आदत होती है, लेकिन ये शौक आपको गंभीर बीमारी का शिकार बना सकता है। जी आगे पढ़ें »

ऊपर