थरुर पर आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप तय हो : दिल्ली पुलिस

सुनंदा पुष्कर मामला: अगली सुनवाई 17 अक्टूबर को
नयी दिल्ली : दिल्ली पुलिस ने शनिवार को यहां की एक अदालत से कांग्रेस सांसद शशि थरुर के खिलाफ उनकी पत्नी सुनंदा पुष्कर की 2014 में मौत के मामले में आत्महत्या के लिए उकसाने या ‘इसके विकल्प में’ हत्या के आरोप में अभियोजन चलाने का अनुरोध किया। राउज एवेन्यू स्थित केंद्रीय जांच ब्यूरो(सीबीआई) के विशेष न्यायाधीश अजय कुमार कुहार की अदालत में शनिवार को सुनंदा पुष्कर मामले की सुनवाई हुई। अदालत में दिल्ली पुलिस ने अनुरोध किया कि सुनंदा की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत के मामले में थरुर के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप तय होना चाहिए। थरुर के खिलाफ 498 ए और 306 अथवा 302 के तहत मामला दर्ज होना चाहिए। पुलिस ने अदालत को बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार पुष्कर की मौत का कारण जहर था और उनके शरीर के विभिन्न हिस्सों में चोट के 15 निशान मिले। अदालत ने इस मामले की सुनवाई के लिए अगली तारीख 17 अक्टूबर तय की है। मालूम हो कि सुनंदा नयी दिल्ली के पंचतारा होटल के अपने कमरे में 17 जनवरी 2014 को मृत पायी गयी और इस मामले में एकमात्र अभियुक्त उनके पति शशि थरुर हैं, जो फिलहाल जमानत पर हैं। मौत से एक दिन पहले कथित तौर पर सुनंदा व पाकिस्तानी पत्रकार मेहर तरार के बीच टि्वटर पर बहस हुई थी। सुनंदा ने इस प्रकरण से कुछ ही दिन पहले अपने पति पर मेहर के साथ अंतरंग संबंध होने के आरोप लगाये थे। थरुर के खिलाफ गत वर्ष 14 मई को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप के तहत आरोपपत्र दाखिल किया गया था। अभियोजन पक्ष के वकील अतुल श्रीवास्तव ने शनिवार को थरुर पर इस मामले में आरोप तय करने के लिए अपनी दलीलों को पूरा करते हुए अदालत को बताया कि सुनंदा पूरी तरह स्वस्थ थीं और उनकी मृत्यु जहर की वजह से हुई। मामले की सुनवाई के दौरान शनिवार को सुनंदा के भाई आशीष दास ने बयान दिया कि उनकी बहन शादीशुदा जिंदगी से प्रसन्न थी किंतु अपने जीवन के आखिरी दिनों में वह बहुत परेशान हुई, लेकिन वह कभी आत्महत्या जैसा कदम उठाने के बारे में नहीं सोच सकती थी। थरूर के लिए पेश हुए विकास पहवा ने इन बातों का खंडन किया और कहा कि अभियोजक द्वारा लगाये गए आरोप बेतुके हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

गुरु नानक के नाम पर भवन बनायेगी राज्य सरकार

कोलकाता : सोमवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने घोषणा की कि सिख गुरुओं के पहले गुरु और सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक की 550वीं आगे पढ़ें »

तेज रफ्तार से आ रही स्कूल बस लैंप पोस्ट से टकरायी, 20 घायल

कोलकाता : ड्राइवर द्वारा नियंत्रण खोने से तेज रफ्तार स्कूल बस लैंप पोस्ट से जा टकरायी। घटना चितपुर थानांतर्गत पी.के मुखर्जी रोड व काशीपुर रोड आगे पढ़ें »

ऊपर