ड्रग्स केस : कॉमेडियन भारती सिंह गिरफ्तार, पति हर्ष से पूछताछ जारी

  • भारती-हर्ष ने एनसीबी के समक्ष गांजा लेने की बात स्वीकारी
  • कॉमेडियन भारती सिंह के फ्लैट से मिला गांजा

मुंबई : बॉलीवुड में ड्रग्स मामले में एनसीबी का शिकंजा लगातार कसता नजर आ रहा है। शनिवार को मुंबई में एनसीबी ने लंबी पूछताछ के बाद कॉमेडियन भारती सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। लगभग 4 घंटे की कड़ी पूछताछ के बाद भारती को गिरफ्तार किया गया।

सूत्रों के मुतबिक, भारती और हर्ष ने एनसीबी के अधिकारियों के समक्ष गांजा लेने की बात को कबूला है। एनसीबी की तरफ से कल भारती को कोर्ट में पेश किया जाएगा। वहीं उनके पति हर्ष लिंबाचिया से अब भी अधिकारियों की पूछताछ जारी है। कयास लगाए जा रहे हैं कि उन्हें भी गिरफ्तार किया जा सकता है।

घर से बरामद हुआ गांजा

उल्लेखनीय है कि, शनिवार की सुबह एनसीबी ने कॉमेडियन भारती और उनके पति हर्ष के मुंबई स्थित 3 घरों में छापामारी की। अधिकारियों को छापामारी के दौरान भारती के प्रोडक्शन ऑफिस और घर से 86.5 ग्राम गांजा बरामद किया गया। जिसके बाद उन्हें और उनके पति को समन भेजा गया। दोनों को शनिवार को ही हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की गई।

जानकारी के मुताबिक, बॉलीवुड में ड्रग्स कनेक्शन का भंडाफोड़ करने में जुटी एनसीबी तेजी से ड्रग पैडर्ल्स की धड़पकड़ कर रही है। इनसे पूछताछ के दौरान ड्रग के दलदल में फंसे सितारों के नाम सामने आ रहे हैं। पिछले दिनों इसी मामले में बॉलीवुड एक्टर अर्जुन रामपाल से लंबी पूछताछ की गई।

सुशांत सिंह राजपूत केस से हुई शुरुआत

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत बांद्रा स्थित अपने निवास पर 14 जून 2020 के दिन मृत पाए गए थे। सुशांत के फैन्स के बीच काफी आक्रोश देखने को मिला जिसके बाद सीबीआई द्वारा मामले की छानबीन शुरू की गई। बाद में एनसीबी ने भी ड्रग्स मामले में तहकीकात शुरू की और एक के बाद एक कर कई सारे बॉलीवुड स्टार्स एनसीबी के जाल में फंसते चले गए। रिया चक्रवर्ती को हिरासत में लिया गया। इसके बाद दीपिका पादुकोण, सारा अली खान और राकुल प्रीत जैसी अभिनेत्री का नाम भी सामने आया और एनसीबी द्वारा उनसे पूछताछ की गई।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कुछ स्कूल हैं खुलने को तैयार तो कुछ अब भी कर रहे हैं इनकार

कोलकाता : कोविड महामारी के बीच स्कूल करीबन 8 महीने से बंद हैं और पढ़ाई से लेकर इग्जाम भी ऑनलाइन ही हो रहे हैं। सब आगे पढ़ें »

महामारी के बीच ध्रुवीकरण नहीं, समावेशी वृद्धि की जरूरत : ममता

कोलकाता : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि कोविड-19 महामारी के बीच ध्रुवीकरण के बजाय समावेशी वृद्धि की जरूरत है। गुरुवार को एबीपी द्वारा आगे पढ़ें »

ऊपर