टेरर फंडिंग मामले में शाह, अंद्राबी और भट न्यायिक हिरासत में भेजे गए

नयी दिल्ली : टेटर फंडिंग मामले पर सुनवाई करते हुए दिल्ली की एक अदालत ने शुक्रवार राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) द्वारा गिरफ्तार किए गए तीन कश्मीरी अलगाववादियों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया है।
टेरर फंडिंग का तार पाकिस्तान से जुड़ा
अदालत ने कश्मीर घाटी में आतंकी गतिविधियों को धन उपलब्‍ध कराने से संबंधित मामले में अलगाववादी शब्बीर शाह, आसिया अंद्राबी और मसरत आलम भट को 12 जुलाई तक न्यायिक हिरासत में भेजा है। मालूम हो कि टेरर फंडिंग के तार पाकिस्तान में मौजूद 2008 मुंबई आतंकी हमले के मुख्य साजिशकर्ता और जमात उद दावा प्रमुख हाफिज सईद से भी जुड़ा हुआ है। वहीं अलगाववादियों की तरफ से पेश हुए वकील एम एस खान ने कहा कि एनआईए द्वारा हिरासत में और पूछताछ का अनुरोध नहीं करने पर विशेष न्यायाधीश राकेश स्याल ने तीनों आरोपियों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया।
पहले भी मिली थी हिरासत को मंजूरी
दरअसल, एनआईए ने अदालत में बंद कमरे में कार्यवाही के दौरान तीनों अलगाववादियों को गिरफ्तार किया था और एजेंसी को तीनों की दस दिन की हिरासत मंजूर की गई थी। शाह और अंद्राबी अलग अलग मामलों में पहले से ही हिरासत में मौजूद थे जबकि आलम को जम्मू कश्मीर से ट्रांजिट रिमांड पर लाया गया था। वह जम्मू कश्मीर में कथित आतंकी गतिविधियों के लिए जेल में बंद थे।

गौरतलब है कि वर्ष 2018 के जनवरी महीने में एनआईए ने कथित टेरर फंडिंग और घाटी में विध्वंसकारी गतिविधियों के मामले में सईद के अलावा एक अन्य आतंकी षडयंत्रकारी सैयद सलाहुद्दीन और दस कश्मीरी अलगाववादियों के खिलाफ आरोपपत्र दायर किया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

वेस्टइंडीज जीत के करीब, इंग्लैंड ने दूसरी पारी में 313 रन बनाए

साउथैम्पटन : इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में वेस्टइंडीज जीत की ओर है। मैच के पांचवें दिन टी ब्रेक तक मेहमान टीम ने 4 विकेट के आगे पढ़ें »

पगबाधा का फैसला सिर्फ और सिर्फ डीआरएस से हो : तेंदुलकर

नयी दिल्ली : महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने अंपायरों के फैसलों की समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) को ‘अंपायर्स कॉल’ को हटाने आगे पढ़ें »

ऊपर