टाटा लिटरेचर लाइव: नॉम चोम्स्की व विजय प्रसाद की ऑनलाइन चर्चा अचानक रद्द

दोनों ने पूछा- क्या यह सेंसरशिप?, धारकर ने कहा-यह सत्यनिष्ठा को बचाने के लिए आवश्यक था
 नयी दिल्ली: जाने माने लेखक नॉम चोम्स्की एवं पत्रकार विजय प्रसाद की ‘टाटा लिटरेचर लाइव’ में ऑनलाइन चर्चा रद्द  कर दी गयी है। उन्होंने इस पर खेद जताया है। घटना के एक दिन बाद इस महोत्सव के संस्थापक एवं निदेशक अनिल धारकर ने रविवार को कहा कि ‘महोत्सव की सत्यनिष्ठा की रक्षा करने के लिए’ यह फैसला करना ‘आवश्यक’ था। मालूम हो कि चोम्स्की की नयी किताब ‘इंटरनेशनलिज्म ऑर एक्सटिंक्शन’ पर शुक्रवार रात 9 बजे चर्चा होनी थी। उसके कुछ घंटे पूर्व दोपहर एक बजे चोम्स्की और प्रसाद को ईमेल भेजकर सूचित किया गया कि अब यह कार्यक्रम आयोजित नहीं होगा। दोनों ने अपनी ऑनलाइन चर्चा को ‘अचानक रद्द’ किये जाने पर खेद जताते हुए पूछा कि क्या यह कदम सेंसरशिप का परिणाम है। चोम्स्की और प्रसाद ने एक बयान जारी करके कहा कि उन्हें कार्यक्रम को रद्द किये जाने की जानकारी ईमेल से दी गयी। हम इस बारे में बात करना चाहते थे कि भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाली सरकार समेत सरकारें और टाटा समूह जैसे कॉरपोरेट समूह मानवता को किस प्रकार गहरे संकट में डालते जा रहे हैं।
घटना के सम्बंध में धारकर ने रविवार को कहा कि सत्र की सुबह उन्हें चोम्स्की, प्रसाद और कार्यकर्ताओं के एक समूह के बीच सार्वजनिक क्षेत्र में हुए पत्राचार का पता चला, जिसमें साफ तौर पर उल्लेख किया गया था कि इस सत्र का उपयोग यह बताने के लिए भी किया जायेगा कि ‘वे विशेषकर टाटा समूह जैसे कॉरपोरेशन के बारे में क्या महसूस’ करते हैं जबकि इस ‘सत्र का अपेक्षित उद्देश्य कभी नहीं’ था। टाटा समूह ‘टाटा लिटरेचर लाइव’ के मुख्य प्रायोजकों में है।
धारकर ने कहा कि मैं समारोह में भाग लेने का निमंत्रण स्वीकार करने और मुख्य प्रायोजक के बारे में नकारात्मक विचार रखने के लिए इस मंच का इस्तेमाल करने के उनके कारणों पर टिप्पणी नहीं करना चाहता हूं। मैंने जिस महोत्सव की स्थापना की और एक समर्पित टीम के साथ जिसे चलाया, उसकी सफलता विचारों की स्वतंत्र अभिव्यक्ति पर निर्भर करती है, किसी व्यक्ति के विशेष एजेंडे की स्वतंत्र अभिव्यक्ति पर नहीं। किसी विशेष संगठन, निगम या किसी व्यक्ति के खिलाफ इस प्रकार के एजेंडे की अभिव्यक्ति के लिए हमारे महोत्सव में जगह नहीं है। मैं प्रोफेसर नॉम चोम्स्की के कार्य का सम्मान और सराहना करता हूं, लेकिन महोत्सव की सत्यनिष्ठा की रक्षा के लिए यह निर्णय आवश्यक था।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

गुरुवार को करें ये उपाय, बढ़ जाती है अपार धन मिलने की संभावना

कोलकाता : गुरु ग्रह से जुड़ाव के कारण गुरुवार को बेहद खास माना जाता है। हिंदू धर्म के लोग इस दिन व्रत रखते हैं और आगे पढ़ें »

5 फरवरी से भाजपा की रथ यात्रा, नड्डा करेंगे शुरुआत

फरवरी में शाह व नड्डा बंगाल में सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : आगामी 5 फरवरी से भाजपा पश्चिम बंगाल में अपनी रथ यात्रा की शुरुआत करने जा रही आगे पढ़ें »

ऊपर