जय श्री राम, जय श्री राम : योगी

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन संपन्न होने के पश्चात अपने भाषण के शुरूआत में कहा जय श्री राम, जयश्री राम कहकर देश को संबोधन किया। इससे पहले योगी ने देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को समस्त रामभक्तों की ओर से ‘राम राम’ की है। योगी ने ट्वीट किया, ”प्रबिसि नगर कीजे सब काजा। हृदयँ राखि कोसलपुर राजा।।” उन्होंने कहा, ”श्री अवधपुरी में दशरथ नंदन श्री रामलला के भव्य-दिव्य मंदिर निर्माण की बहुप्रतीक्षित अभिलाषा को पूर्ण करने हेतु उत्तर प्रदेश की पावन धरा पर पधार रहे आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी को समस्त राम भक्तों की ओर से राम-राम!” मुख्यमंत्री योगी ने एक अन्य ट्वीट में चौपाई कही, ”जासु बिरहँ सोचहु दिन राती। रटहु निरंतर गुन गन पाँती।। रघुकुल तिलक सुजन सुखदाता। आयउ कुसल देव मुनि त्राता।।” उन्होंने कहा, ”प्रिय राम भक्तो, आपका अभिनंदन, आपको बधाई।। 1 जय श्री राम!”

लोकतांत्रिक तरीके से समस्याओं के समाधान की ताकत का एहसास करा रहा है भूमि पूजन

योगी ने कहा कि मंदिर के लिये संघर्ष की इस परिणति ने लोकतांत्रिक पद्धति और संविधान सम्मत तरीके से समस्याओं के समाधान की भारत की ताकत का एहसास कराया है। योगी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन अवसर पर अपने संबोधन में कहा कि यह केवल मंदिर निर्माण के कार्यक्रम का शुभारंभ ही नहीं, बल्कि उसे भारत को दुनिया के सामने पेश करने का अवसर भी है जिसे आज से 6 वर्ष पहले प्रधानमंत्री मोदी ने रामराज्य की अवधारणा को चरितार्थ करने के लिए आगे बढ़ाया था।

रामराज्य

उन्होंने कहा कि रामराज्य, जिसमें किसी के साथ जाति, क्षेत्र, भाषा के नाम पर कोई भेदभाव नहीं होगा। ‘सबका साथ, सबका विकास’ की भावना को चरितार्थ करते हुए जिस कार्यक्रम को छह वर्ष पहले आगे बढ़ाया गया था, भगवान राम का भव्य दिव्य मंदिर उनकी कीर्ति के अनुरूप भारत के यश और कीर्ति को देश और दुनिया में इसी के रूप में आगे बढ़ाने का काम करेगा।

जय श्री राम

‘जय श्री राम’ के साथ अपना संबोधन शुरू करने वाले मुख्यमंत्री ने कहा कि 500 वर्षों का एक लंबा बड़ा और कड़ा संघर्ष हुआ, लेकिन शांतिपूर्ण ढंग से लोकतांत्रिक पद्धति से और संविधान सम्मत तरीके से समस्याओं का समाधान कैसे हो सकता है, भारत ने दुनिया की सभी ताकतों को इस बात का एहसास कराया है।

जो सपना हम सब ने देखा है

योगी ने कहा ”जो सपना हम सब ने देखा है, मुझे लगता है कि उसका एहसास तीन वर्ष पहले अयोध्या में दीपोत्सव के आयोजन के साथ आप सबने किया होगा। आज उस कार्यक्रम की सिद्धि के रूप में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों राम जन्मभूमि के भव्य मंदिर के निर्माण कार्य के भूमि पूजन का फल हम सब को देखने को मिला है।

मंदिर निर्माण का काम श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास करेगा

उन्होंने कहा कि मंदिर निर्माण का काम श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास करेगा लेकिन अवधपुरी को दुनिया की सबसे वैभवशाली और सबसे समृद्धशाली नगरी के रूप में भौतिक विकास की दृष्टि में सांस्कृतिक परंपराओं को अक्षुण्ण बनाए रखने के संकल्प के लिए हम सभी प्रतिबद्ध हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अमेरिका में रविवार से टिकटॉक और वी चैट बैन

ट्रंप ने टिकटॉक को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा बताया था वाशिंगटन : विभिन्न मुद्दों पर चीन से जारी तनातनी के बीच टिकटॉक और वीचैट जैसी आगे पढ़ें »

नेपाल की पाठ पुस्तकों में भारतीय क्षेत्रों को दिखाने वाला मानचित्र शामिल

काठमांडू : सीमाई विवाद को लेकर जारी गहमागहमी के बीच नेपाल के स्कूलों के पाठक्रम में नई पुस्तकें लाई गई हैं, जिनमें भारत के रणनीतिक आगे पढ़ें »

ऊपर