चंद्रयान-2 पर साथ देने के लिए इसरो ने सभी का धन्यवाद किया

isro mission

नई दिल्लीः लैंडर विक्रम से संपर्क की अंतिम कोशिशें जारी है। इस बीच अब इसरो ने उन सभी का धन्यवाद दिया है, जिन्होंने चंद्रयान-2 के मिशन में भारतीय स्पेस एजेंसी का साथ दिया। इसरो ने एक ट्वीट कर कहा कि वह आगे भी देशवासियों के सपने को पूरा करता रहेगा।
चंद्रयान- 2 के लैंडर विक्रम की चंद्रमा पर हार्ड लैंडिंग की वजह से मिशन के हिस्से आई आंशिक असफलता के बाद भी पूरा देश एकसुर से इसरो की हौसला आफजाई करता रहा। इससे अभिभूत इसरो ने एक ट्वीट कर सभी समर्थकों का शुक्रिया कहा। अंतरिक्ष विज्ञान जगत में भारत को गौरवान्वित करने वाले इस संगठन ने दुनियाभर में बसे भारतीयों के सपनों को साकार करने का भरोसा दिलाया।

गौरतलब है कि चंद्रयान- 2 मिशन की लॉन्चिंग के 47वें दिन लैंडर विक्रम को चांद की सतह पर उतरना था, लेकिन महज 350 मीटर की दूरी पर उसका संपर्क टूट गया। चंद्रयान- 2 ने अपने 47 दिनों की यात्रा के दौरान कई मुश्किल पड़ाव पार किए थे और आखिर में उसे विक्रम लैंडर के जरिए रोवर प्रज्ञान के चांद की सतह पर उतारना था। इस प्रक्रिया में विक्रम को चांद की सतह पर सॉफ्ट लैंडिग करनी थी, लेकिन शायद उसकी गति अनियंत्रित हो जाने के कारण उसने हार्ड लैंडिंग की। बाद में चंद्रयान-2 के ऑर्बिटर ने चांद की सतह पर तिरछे पड़े विक्रम की तस्वीर भेजी जिसके बाद उससे दोबारा संपर्क स्थापित करने की जीतोड़ कोशिश की गई, लेकिन सफलता नहीं मिल पाई।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ममता ने प्रधानमंत्री को लिखा पत्र, मांगी 25 हजार करोड़ रुपये वित्तीय सहायता

कोलकाता : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिख कर राज्य सरकार द्वारा लोगों को मुफ्त राशन आगे पढ़ें »

गांगुली ने बेलूर मठ में जरूरत मंदों को किया दो हजार किलो चावल का दान

कोलकाता : भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष और पूर्व कप्तान सौरव गांगुली बुधवार को रामकृष्ण मिशन के मुख्यालय बेलूर मठ पहुंचे जहां उन्होंने कोरोना आगे पढ़ें »

ऊपर