गोवा में सन् 1965 से ही लागू है समान नागरिक संहिता 

अमर सिंह
केंद्रीय मंत्री पी पी चौधरी

पणजी : देश में समान नागरिक संहिता लागू किए जाने की पुरानी मांग के बीच गोवा इस मामले में अपवाद है।
केंद्र सरकार ने शुक्रवार को राज्यसभा में स्पष्ट किया कि गोवा में सन् 1965 से ही समान नागरिक संहिता लागू है। उच्च सदन में निर्दलीय सदस्य अमर सिंह द्वारा इस बारे में पूछे गये सवाल के लिखित जवाब में विधि एवं न्याय राज्य मंत्री पी.पी. चौधरी ने बताया कि गोवा में समान नागरिक संहिता लागू है। अमर सिंह ने पूछा था कि क्या सरकार को इस बात की जानकारी है कि गोवा में सन् 1965 से ही समान नागरिक संहिता लागू रही है, जो राज्य के सभी नागरिकों, चाहे वे किसी भी जाति के हों, पर लागू है। हालांकि शेष राज्यों में भी इसे लागू करने के सवाल पर राज्य मंत्री चौधरी ने बताया कि भिन्न समुदायों और भिन्न क्षेत्रों पर लागू विभिन्न पर्सनल लॉ को ध्यान में रखते हुए देश के अन्य भागों में गोवा नागरिक संहिता को लागू नहीं किया जा सकता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

फेसबुक इंडिया करेगा विस्तार, अब ये होंगे नए मार्केटिंग डायरेक्टर

नई दिल्ली : फेसबुक इंडिया विस्तार नीतियों के तहत अपनी नेतृत्व टीम में बदलाव कर रही है और अब कंपनी के नए मार्केटिंग डायरेक्टबर होंगे आगे पढ़ें »

lucknow

लखनऊ विश्वविद्यालय में ‘सीएए’ बतौर विषय पढ़ाने की तैयारी

लखनऊ : नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के समर्थन में जनसभाओं और विरोध में हो रहे प्रदर्शनों के बीच लखनऊ विश्वविद्यालय (एलयू) अपने छात्रों को सीएए आगे पढ़ें »

ऊपर