जिसके लिए ममता धरने पर बैठी थीं, उस आईपीएस के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी

नयी दिल्ली : कोलकाता के पूर्व पुलिस आयुक्त राजीव कुमार की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के करीबी राजीव कुमार के खिलाफ केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने लुकआउट नोटिस जारी किया है। एजेंसी ने सारदा घोटाले के सिलसिले में कुमार से हिरासत में पूछताछ की अनुमति मांगी है। अधिकारियों ने रविवार को बताया कि सीबीआई ने कुमार को देश छोड़ने से रोकने के लिए और उनके किसी भी संभावित कदम के बारे में एजेंसी को सूचित करने के लिए इस सप्ताह सभी हवाईअड्डों और आव्रजन अधिकारियों को सतर्क किया है। एजेंसी 2500 करोड़ रुपये के सारदा पोंजी घोटाले में 1989 बैच के आईपीएस अधिकारी कुमार से हिरासत में पूछताछ करना चाहती है।
जांच में सहयोग नहीं कर रहें राजीव
सीबीआई ने उच्चतम न्यायालय से कहा था कि कुमार से हिरासत में पूछताछ जरूरी है क्योंकि वह जांच में सहयोग नहीं कर रहे और वह एजेंसी द्वारा उनसे पूछताछ में रखे गये सवालों पर टालमटोल तथा अड़ियल रवैया अपना रहे हैं। सीबीआई की ओर से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा था कि कुमार एसआईटी की जांच के प्रभारी थे और उन्होंने आरोपियों से जब्त मोबाइल फोन तथा लैपटॉप को जब्ती मुक्त करने की अनुमति दी थी जिनमें घोटाले में राजनीतिक पदाधिकारियों की कथित संलिप्तता का महत्वपूर्ण रिकॉर्ड था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

Mosquito dengue

हावड़ा में अफसरों के क्वार्टर में ही पनप रहे हैं डेंगू मच्छरों के लार्वा

हावड़ा : मलेरिया व डेंगू की रोकथाम के लिए दूसरों को नियंत्रण सीख देने वाले अफसरों के क्वार्टर व कार्यालयों में जमे पानी व गंदगी आगे पढ़ें »

Panchsaire rape case taxi driver

पंचशायर रेप केस में टैक्सी ड्राइवर गिरफ्तार,अज्ञात लोगों पर मामला दर्ज

कोलकाता : पंचशायर इलाके में मानसिक रूप से विक्षिप्त महिला से दुष्कर्म के आरोप में पुलिस ने टैक्सी ड्राइवर को गिरफ्तार किया है। अभियुक्त का आगे पढ़ें »

ऊपर