लॉकडाउन खोलने की योजना ऐसे बनाएं : मोदी

modi

नयी दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉकडाउन को चरणबद्ध तरीके से खोले जाने का संकेत देते हुए केंद्रीय मंत्रियों से कहा कि उन इलाकों में विभागों को खोलने की श्रेणीबद्ध योजना तैयार करें जो कोरोना महामारी के जद में नहीं हैं। उन्होंने वीडियो कॉंफ्रेंसिंग के जरिये केंद्रीय मंत्रिपरिषद की बैठक की अध्यक्षता करते हुए यह टिप्पणी की। आधिकारिक बयान के मुताबिक अर्थव्यवस्था पर कोविड-19 के प्रभाव का उल्लेख करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार को इस असर को कम करने के लिए युद्धस्तर पर काम करना होगा।
कामकाज जारी रखने की बनाये योजना
उन्होंने कहा कि मंत्रियों को कामकाज जारी रखने की योजना बनानी चाहिए। मोदी ने मंत्रिमंडल के अपने सभी सहयोगियों से कोरोना महामारी से प्रभावी ढंग से निपटने के लिए विशेष रूप से कोरोना के हॉटस्पाट पर नजर रखने, राज्यों और जिला प्रशासन के निरंतर संपर्क में रहने, मिलकर रणनीति बनाने और उनके द्वारा किये जाने वाले सभी उपायों तथा जमीनी हालात से उन्हें लगातार अवगत कराते रहने को कहा है।
राशन केंद्रों पर न बढ़े भीड़भाड़
मोदी ने केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक के दौरान सभी मंत्रियों के साथ कोरोना वायरस के प्रकोप से उत्पन्न स्थिति के बारे में विस्तार से चर्चा की। संभवत यह पहला मौका है जब मंत्रिमंडल की बैठक वीडियो कॉंफ्रेंस के जरिये की गयी है। इससे पहले की बैठकों में सभी सदस्यों ने सामाजिक दूरी का ख्याल रखते हुए हिस्सा लिया था। प्रधानमंत्री ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि राशन केंद्रों पर भीड़भाड़ न बढ़े, शिकायतों का संज्ञान लेकर कार्रवाई की जाये और आवश्यक वस्तुओं की कालाबाजारी रोकी जाये और उनकी कीमतें काबू में रहें। मोदी ने केंद्रीय मंत्रियों से कहा है कि वह अपने-अपने मंत्रालयों की योजना ​युद्धस्तर पर तैयार करें और उन्होंने इस संकट को ‘मेक इन इंडिया’ पहल को बढ़ावा देने और अन्य देशों पर निर्भरता को कम करने का अवसर करार दिया।
प्राथमिकता वाले 10 क्षेत्रों की पहचान करें
मोदी ने मंत्रिपरिषद की बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि हर मंत्री को अपने मंत्रालय के 10 प्रमुख फैसले और प्राथमिकता वाले 10 क्षेत्रों की पहचान करनी चाहिए। किसानों और फसलों के बारे में चर्चा करते हुए मोदी ने मंत्रियों से कहा कि वे एप आधारित टैक्सी सेवाओं की तर्ज पर किसानों को मंडी से जोड़ने के लिये ‘ट्रक एग्रीगेटर्स’ जैसे नवोन्मेष तरीकों की संभावनाएं तलाशें। उन्होंने एक बार फिर जोर दिया कि बंद के उपाय और सामाजिक दूरी के नियम साथ-साथ चलने चाहिए। मंत्रियों ने इस महामारी से निपटने के लिये किए गए उपायों पर मिली प्रतिक्रियाओं से प्रधानमंत्री को अवगत कराया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

मैच फीट के लिए चार चरण में अभ्यास करेंगे भारतीय क्रिकेटर : कोच श्रीधर

नयी दिल्ली : भारत के क्षेत्ररक्षण कोच आर श्रीधर का कहना है कि देश के शीर्ष क्रिकेटरों के लिए चार चरण का अभ्यास कार्यक्रम तैयार आगे पढ़ें »

नस्लभेद के खिलाफ आवाज बुलंद करे आईसीसी : सैमी

नयी दिल्ली : वेस्टइंडीज के पूर्व टी-20 कप्तान डेरेन सैमी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) और अन्य क्रिकेट बोर्डों से नस्लभेद के खिलाफ आवाज बुलंद आगे पढ़ें »

ऊपर