कोरोना निगरानी समिति के गठन संबंधी नोटिस फर्जी: गृह मंत्रालय

नयी दिल्ली : गृह मंत्रालय ने कहा है कि कोरोना महामारी के मद्देनजर उसके द्वारा जारी की गयी विभिन्न मानक संचालन प्रक्रियाओं के क्रियान्वयन के लिए निगरानी समिति गठित किये जाने संबंधी नोटिस फर्जी है और इस तरह की कोई समिति गठित नहीं की गयी है। मंत्रालय ने टि्वट कर पिछले कुछ दिनों से वायरल हो रहे इस नोटिस की फोटो भी डाली है और इसे फर्जी करार दिया है। टि्वट में कहा गया है, ‘ कोविड 19 महामारी निगरानी समिति के गठन का दावा करने वाला यह नोटिस फर्जी है।

कोई समिति गठित नहीं

केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने इस तरह की कोई समिति गठित नहीं की है। फेक न्यूज और अफवाहों से सावधान रहें। ’ ट्वीट के साथ पोस्ट किये गये 12 जून के फर्जी नोटिस में कहा गया है कि मानक संचालन प्रक्रियाओं और उनसे जुडे मुद्दों के समाधान के लिए एक निगरानी समिति समिति गठित की गयी है। समिति में शामिल 15 सदस्यों के नाम भी इसमें दिये गये हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

घोर लापरवाही, 18 घंटे घर में पड़ा रहा कोरोना संक्रमित का शव

बेहला के बाद केष्टोपुर में घटी घटना सन्मार्ग संवाददाता, कोलकाता : एक ओर कोरोना वायरस का संक्रमण राॅकेट की रफ्तार से बढ़ रहा है तो दूसरी आगे पढ़ें »

अभिषेक बच्चन की कोविड टेस्ट रिपोर्ट 28 दिन बाद आयी निगेटिव

मुंबई : 28 दिन बाद  अभिषेक बच्चन की कोविड टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव आयी है। नानावटी हॉस्पिटल में भर्ती अभिषेक बच्चन का लेटेस्ट कोरोना टेस्ट निगेटिव आगे पढ़ें »

ऊपर