कोरोना की वजह से 9वीं-12वीं के पाठ्यक्रम 30 फीसदी घटे

नयी दिल्ली : कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच स्कूलों के ना खुल पाने के कारण शिक्षा व्यवस्था पर असर और कक्षाओं के समय में भी आई कमी को ध्यान में रखते हुए सीबीएसई ने मंगलवार को शैक्षणिक सत्र 2020-21 के लिए 9वीं -12वीं का पाठ्यक्रम 30 फीसदी घटा दिया। नौवीं कक्षा से 12वीं तक का पाठ्यक्रम नये सिरे से बनेंगे। नये पाठ्यक्रम 2020-21 के शैक्षिक स्तर में लागू होगा। सीबीएसई की ओर से जारी गाइडलाइंस के अनुसार पाठ्यक्रमों में मूल अवधारणाओं को बनाए रखा गया है तथा जिन घटाये गये पाठ्यक्रम वर्षांत बोर्ड परीक्षाओं और आतंरिक मुल्यांकन के लिए निर्धारित विषयों का हिस्सा नहीं होंगे। विद्यालय प्रमुख और अध्यापक विभिन्न विषय संयोजित करने के लिए विद्यार्थियों को घटाई गई विषय-वस्तु की भी व्याख्या करना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि सम्बद्ध विद्यालयों में वैकल्पिक शैक्षणिक कैलेंडर और एनसीईआरटी के अन्य इनपुट भी अध्यापन शिक्षण का भाग होंगे। विद्यालय प्रारम्भिक कक्षाओं पहली से आठवीं के लिए एनसीईआरटी द्वारा विनिर्दिष्ट वैकल्पिक शैक्षणिक कैलेंडर और अधिगम निष्कर्षों का अनुसरण करेंगे। संशोधित पाठ्यक्रम सीबीएसई की शैक्षणिक वेबसाइट डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू.सीबीएसईएकेडमिक.निक.इन पर उपलब्ध है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल में कोरोना वायरस संक्रमण के 2752 नये आये मामले

कोलकाता : वेस्ट बंगाल कोविड-19 हेल्थ बुलेटिन के अनुसार पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस संक्रमण के पिछले 24 घंटे में 2752 नये मामले आये है आगे पढ़ें »

राममंदिर के शिलान्यास के अवसर पर अपने घरों में दीपावाली मनाएं : रावत

देहरादून : उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने पांच अगस्त को अयोध्या में राममंदिर निर्माण हेतु भूमिपूजन के अवसर पर प्रदेश की जनता से आगे पढ़ें »

ऊपर