कोरोना की तीसरी लहर के लिए दिल्ली कितनी तैयार?

नई दिल्ली : दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना की संभावित तीसरी लहर के मद्देनजर की जा रही तैयारियों को लेकर आज शुक्रवार को उपराज्यपाल (एलजी) अनिल बैजल के साथ बैठक की। इस दौरान मुख्यमंत्री ने संभावित तीसरी लहर के मद्देनजर दिल्ली सरकार के एक्शन प्लान और रोडमैप पर एलजी से विस्तार से चर्चा की। दिल्ली सरकार द्वारा बैठक में गठित स्टेट लेवल टास्ट फोर्स, स्वास्थ्य कर्मियों की संख्या में इजाफा करने और बच्चों के इलाज के लिए बाल चिकित्सा टास्क फोर्स पर मुख्य रूप से चर्चा हुई। साथ ही, मुख्यमंत्री ने पीएसए ऑक्सीजन प्लांट, क्रायोजेनिक बॉटलिंग प्लांट, एमएलओ स्टोरेज प्लांट, अस्पतालों में ऑक्सीजन और बेड प्रबंधन, दवाओं की व्यवस्था और वैक्सीनेशन को लेकर एलजी को जानकारी दी। केजरीवाल ने एलजी को बताया कि दिल्ली सरकार संभावित तीसरी लहर के दौरान कम से कम 37 हजार और अधिकतम 45 हजार केस प्रतिदिन आने की संभावना के आधार पर अपनी तैयारी कर रही।

दिल्ली सरकार की तैयारियों का पूरा खाका 

सबसे पहले, बैठक में एक प्रजेंटेशन के जरिए दिल्ली सरकार द्वारा की जा रही तैयारियों का पूरा खाका एलजी के समक्ष पेश किया गया। बैठक में मुख्यमंत्री ने एलजी के साथ मुख्य रूप से स्टेट लेवल टास्ट फोर्स, स्वास्थ्य कर्मियों की संख्या में इजाफा करने और बच्चों के इलाज के लिए बाल चिकित्सा टास्क फोर्स के संबंध में चर्चा की। अगर तीसरी लहर आती है और ऑक्सीजन की जरूरत पड़ती है, तो उसके लिए दिल्ली कितनी तैयार है?

इसको लेकर मुख्यमंत्री केजरीवाल ने दिल्ली के विभिन्न इलाकों में स्थापित हो चुके और आने वाले कुछ दिनों में स्थापित होने जाने वाले पीएसए ऑक्सीजन प्लांट के साथ क्रायोजेनिक बॉटलिंग प्लांट, एमएलओ स्टोरेज प्लांट की उपराज्यपाल को विस्तार से जानकारी दी। अरविंद केजरीवाल ने एलजी को अवगत कराया कि संभावित तीसरी लहर की सबसे खराब स्थिति और समान्य स्थिति के अधार पर बेड प्रबंधन समेत अन्य तैयारियां की जा रही हैं। विशेषज्ञों का आंकलन है कि अगर कोरोना की तीसरी लहर आती है, तो दिल्ली में समान्य स्थिति के दौरान करीब 37 हजार केस प्रतिदिन आ सकते हैं, जबकि इसका प्रकोप बहुत ज्यादा होता है, तो करीब 45 हजार केस प्रतिदिन आ सकते हैं। इसलिए दिल्ली सरकार बेड आदि के प्रबंधन की तैयारी सामान्य और सबसे खराब स्थिति को ध्यान में रखते हुए कर रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

अब कोलकाता पुलिस के कर्मी कर सकेंगे स्वेच्छा से अंगदान

ऑर्गन डोनेशन के लिए भी भर सकते हैं फॉर्म सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : अगर कोई अंगदान करना चाहता है और उसे नियम नहीं पता तो उसकी मुश्क‌िल आगे पढ़ें »

ऊपर