किसान आंदोलन: गाजीपुर बॉर्डर पर किसान ने की खुदकुशी

सुसाइड नोट में लिखा-मैं अपनी जान देकर जा रहा हूँ, ताकि कोई हल निकल सके
गाजियाबाद: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली तथा उत्तर प्रदेश के गाजीपुर बॉर्डर पर शनिवार को एक किसान सरदार कश्मीर सिंह ने सार्वजनिक शौचालय में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। वह मूल रूप से उत्तर प्रदेश में रामपुर जिले के बिलासपुर क्षेत्र का निवासी था। किसान ने मरने से पहले लिखे सुसाइड नोट में इसके लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। पुलिस के अनुसार कश्मीर सिंह सुबह गाजीपुर बॉर्डर के नजदीक ही नगर निगम के सार्वजनिक शौचालय में नित्य क्रिया करने गया था, वहां उसने रस्सी से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। सुसाइड नोट में किसान ने लिखा है कि मेरा अंतिम संस्कार मेरे पोते, बच्चे के हाथों यहीं दिल्ली- यूपी बॉर्डर पर किया जाये क्योंकि उनका परिवार बेटा और पोता यहीं आंदोलन में निरंतर सेवा कर रहे हैं। आंदोलन के मद्देनजर सरकार विफल है। सरकार किसानों की बात सुन नहीं रही है, इसलिए मैं अपनी जान देकर जा रहा हूँ, ताकि कोई हल निकल सके।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ममता का मास्टर स्ट्रोक है नंदीग्राम आंदोलन, शुभेन्दु के तेवर भी गरम

महज एक गांव नहीं, बंगाल की सत्ता में परिवर्तन का प्रतीक है नंदीग्राम दादा और दीदी की लड़ाई में किसके हाथ लगेगा विजय रथ, तय करेगी आगे पढ़ें »

सर्दियों में नाखूनों के आसपास की निकलती है खाल ? राहत देंगे ये घरेलू उपाय

कोलकाता : सर्दियों के मौसम में अक्सर कई लोग नाखूनों के आस-पास की खाल निकलने की शिकायत करते हैं। इसकी वजह से न सिर्फ व्यक्ति आगे पढ़ें »

ऊपर