कांग्रेस में हाहाकर, राहुल गांधी के इस्तीफे की पेशकश

नई दिल्ली : लोकसभा चुनाव में लगातार दूसरी बार हार के बाद कांग्रेस में हाहाकार मचा हुआ है। शनिवार को कांग्रेस कार्यसमिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक हुई जिसमें कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, सोनिया गांधी, प्रियंका गांधी वाड्रा, मनमोहन सिंह सहित पार्टी कई बड़े नेता मौजूद रहे। पार्टी प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने बैठक के बाद राहुल गांधी के अध्यक्ष पद से इस्तीफे की पेशकश की खबरों को गलत बताया। सूत्रों से खबरें मिल रही थी कि पार्टी अध्यक्ष होने के नाते हार की जिम्मेदारी लेते हुए राहुल ने इस्तीफे की पेशकश की लेकिन पार्टी ने इसे ठुकरा दिया है।
पार्टी की हार के लिए जिम्मेदार
बैठक में किन मुद्दों पर चर्चा हुई इसके बारे कोई आधिकारिक जानकारी सामने नहीं आई है। सूत्रों से पता चला था कि राहुल इस्तीफे की पेशकश कर यह संदेश देना चाहते हैं कि वे इस लोकसभा के साथ ही पिछले आम चुनाव में भी पार्टी की हार के लिए जिम्मेदार हैं।
पांच महीने पहले ही जीते थे विधानसभा चुनाव
इस बैठक में खासकर, मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में मिली हार पर चर्चा होने की उम्मीद जताई जा रही है, जहां पार्टी ने पांच महीने पहले ही विधानसभा चुनाव जीते थे। इसके अलावा कर्नाटक विधानसभा चुनाव में हुई हार पर भी मंथन हो सकता है। यहां कांग्रेस सत्ता में थी, लेकिन इस बार भाजपा ने 28 में से 25 सीटों पर जीत दर्ज की है। कांग्रेस को सिर्फ एक सीट पर संतोष करना पड़ा।
तीन प्रदेश अध्यक्षों ने इस्तीफा सौंपा
ओडिशा में हुए लोकसभा और विधानसभा चुनाव में पार्टी की हार के बाद वहां के प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष निरंजन पटनायक ने अपने पद से इस्तीफा देने का ऐलान किया है। उत्तर प्रदेश से पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर और कर्नाटक के पार्टी अध्यक्ष ने भी आम चुनाव में हार की जिम्मेदारी लेते हुए अपने पद से त्यागपत्र देने की घोषणा की है।

बता दें कि को साल 2014 में हुए लोकसभा चुनाव के मुकाबले कांग्रेस को आठ सीटों का फायदा हुआ।

शेयर करें

मुख्य समाचार

rajeev-kumar

राजीव पर शिकंजा कसने आ रहे हैं ‘स्पेशल 12’

सप्ताह भर के अंदर कार्रवाई होगी पूरी : सीबीआई सूत्र अलीपुर कोर्ट में कैविएट दायर किया राजीव कुमार ने सीबीआई जारी करा सकती है वारंट सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : आगे पढ़ें »

मोदी से मिलीं ममता, बंगाल से जुड़े मसले पर हुई चर्चा

पीएम को बंगाल आने का दिया न्योता राज्य के नामकरण को लेकर हुई चर्चा एनआरसी के मुद्दे पर नहीं हुई बात सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता/नई दिल्ली : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी आगे पढ़ें »

ऊपर