कांग्रेस का लोकतंत्र पर बात करना क्षोभपूर्ण : निर्मला सीतारमण

चेन्नई : भाजपा नेता एवं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को कहा कि सत्ता की भूखी कांग्रेस सरकार ने 45 वर्ष पहले आज ही के दिन लोगों से उनके अधिकार छीन लिए थे और आज लोकतंत्र की बात करने की कांग्रेस की हिम्मत क्षोभपूर्ण है। सीतारमण ने 25 जून 1975 को लगे आपातकाल को याद करते हुए कहा कि यह सत्ता की भूखी कांग्रेस पार्टी द्वारा लागू किया गया था और उसने आपातकाल लगाकर लोकतंत्र के आगे एक बड़ी चुनौती उत्पन्न की थी। आपातकाल 21 मार्च 1977 तक चला था। भाजपा की तमिलनाडु पार्टी इकाई के कार्यकर्ताओं को ऑनलाइन रैली में संबोधित करते हुए सीतारमण ने कहा, ‘‘लोगों के अधिकार पूरी तरह छीन लिए गए। कांग्रेस पार्टी ने ऐसा क्यों किया? यह सत्ता की लालसा थी। कानून तोड़ा गया और आपातकाल की घोषणा की गई।’’
सीतारमण का कांग्रेस पर लगाया आरोप
वित्त मंत्री ने आरोप लगाया कि आपातकाल के दौरान अनेक अत्याचार किए गए और विपक्ष के कई बड़े नेताओं को जेल में डाला गया। दिवंगत मुख्यमंत्री एम करुणानिधि के नेतृत्व वाली डीएमके सरकार बर्खास्त कर दी गई। उन्होंने आरोप लगाया कि द्रमुक नेता मेयर चिट्टीबाबू जेल में यातनाएं नहीं झेल पाए और और उन्होंने दम तोड़ दिया। साथ ही उन्होंने कहा, ‘‘आज लोकतंत्र की बात करने की कांग्रेस की हिम्मत क्षोभ पूर्ण है।’’ सीतारमण ने कहा कि द्रमुक ने भी बाद में कांग्रेस पार्टी का हाथ थाम लिया। उन्होंने पूछा, ‘‘द्रमुक को लोकतंत्र और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर सवाल उठाने का क्या अधिकार है?’’

शेयर करें

मुख्य समाचार

बड़ाबाजार इलाके में एक गोदाम में लगी भीषण आग, 7 अग्निशामक दल की गाड़ी मौके पर

कोलकाता : कोलकाता महानगर के बड़ाबाजार इलाके में स्थित एक प्लास्टिक के गोदाम में आग लग गई है। गोदाम लगने से चारों तरफ अफरातफरी मच आगे पढ़ें »

पुणे के कारोबारी ने अपने लिए 2.89 लाख रुपये का सोने का मास्क बनवाया

पुणे (महाराष्ट्र) : कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिए मास्क पहनने की अनिवार्यता के बीच यहां के एक कारोबारी ने अपने लिए दो लाख आगे पढ़ें »

ऊपर