कलयुगी मां ने अपने दो मासूम बच्चों को ट्रेन के आगे फेंका, एक की मौत

गयाः ममता की मूरत कही जाने वाली एक कलयुगी मां ने अपने कलेजे के टुकड़े दो मासूम बच्चों को ट्रेन के आगे फेंक दिया। घटना की पीछे घरेलू कलह की बात सामने आ रही है। इस घटना में 5 वर्षीय बेटे प्रियांशु की मौत इलाज के लिए ले जाने के दौरान हो गई। जबकि 4 साल की बेटी प्रिया अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझ रही है।
ट्रेन का कर रही थी इंतजार, ट्रेन के आते ही सामने फेंका बच्चों को
मौजूद लोगों के अनुसार महिला ट्रैक के किनारे बैठकर ट्रेन की प्रतीक्षा कर रही थी। दोनों बच्चों के द्वारा घर चलने की जिद के बाद केला खिलाकर उन्हें शांत कर दे रही थी। जैसी ही ट्रेन 11:05 में गुरारु स्टेशन से खुली और महिला के नजदीक आई तो बच्चों को ट्रेन के आगे फेंक कर भागने लगी। घटना के बाद गुस्साई भीड़ ने महिला को घसीटते हुए स्थानीय पुलिस को सौंपा। बाद में महिला को रेल थाने की पुलिस को सुपुर्द कर दिया गया।
ससुर-भसुर से प्रताड़ित थी महिला
घटना गया-मुगलसराय रेलखंड के गुरारु रेलवे स्टेशन के नजदीक शंकर बिगहा गांव के पास हुई। घटना को अंजाम देने वाली महिला सावित्री देवी गुरारू थाना क्षेत्र के मलपा गांव की रहने वाले टोला सेवक राजकुमार की पत्नी है। सावित्री की शादी 2010 में हुई थी। महिला ने बताया कि वह मथुरा बिगहा के समीप राजा बिगहा गांव की रहने वाली है। शादी के बाद से ही घर में ससुर-भसुर द्वारा प्रताड़ित किया जा रहा था। घरेलू कलह से तंग आकर घटना को अंजाम दिया।
पुलिस कर रही जांच
महिला के विरुद्ध घटना को लेकर रेल थाना में मामला दर्ज कर लिया गया है। रेल थानाध्यक्ष परशुराम सिंह ने बताया कि महिला को गिरफ्तार कर केस दर्ज कर लिया गया है। आगे की कार्रवाई की जा रही है। जांच के बाद ही पता चल पाएगा कि मामला घरेलू कलह का था या कुछ और कारण है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

us

भारतीय अमेरिकी सांसद ने कश्मीर मामले पर अमेरिकी संसद में पेश किया प्रस्ताव

वाशिंगटन : भारतीय अमे‌‌रिकी सांसद प्रमिला जयपाल ने अमेरिकी संसद में जम्मू-कश्मीर को लेकर एक प्रस्ताव पेश किया है। इसमें भारत से वहां वहां लगाए आगे पढ़ें »

kejri

केजरीवाल पहुंचे घटनास्‍थल पर, मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख मुआवजे का ऐलान किया

नई दिल्ली : दिल्ली के अनाज मंडी इलाके में लगी भीषण आग में 43 लोगों की मौत हो गई है। वहीं घटनास्‍थल पर पहुंचे मुख्यमंत्री आगे पढ़ें »

ऊपर