ओडिशा के गहिरमाथा समुद्र तट का क्षेत्र बढ़ा

केंद्रापाड़ा : सालाना प्रजनन काल के लिए लाखों ‘ऑलिव रिडले’ मादा कछुओं के लिए मेजबान बने ओडिशा के गहिरमाथा समुद्र तट का प्राकृतिक संचयन प्रक्रिया के जरिये 2.6 किलोमीटर क्षेत्र बढ़ गया है।
राजनगर मैंग्रोव (वन्यजीवन) वन संभाग के सहायक वन संरक्षक अरविंद मिश्रा ने कहा कि केंद्रापाड़ा जिले के गहिरमाथा के मानवरहित नासी-2 द्वीप का समुद्र तट प्राकृतिक रूप से बढ़ने के कारण इन कछुओं को अंडे सेने के लिए अनुकूल माहौल प्रदान करता है। उन्होंने कहा कि यह समुद्र तट कछुओं को प्रजनन के लिए बेहतर माहौल देता है इसलिए करीब 4.63 लाख कछुए इस प्रक्रिया के लिए समुद्र तट पर एकत्रित हुए हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल में कोरोना के 1390 आये नये मामले

कोलकाता : वेस्ट बंगाल कोविड-19 हेल्थ बुलेटिन के अनुसार पश्चिम बंगाल में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 1390 नये मामले सामने आये आगे पढ़ें »

भारत में अल्पपोषित लोगों की संख्या छह करोड़ घटकर 14 प्रतिशत पर पहुंची : संयुक्त राष्ट्र

संयुक्त राष्ट्र : भारत में पिछले एक दशक में अल्पपोषित लोगों की संख्या छह करोड़ तक घट गई है। संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट में आगे पढ़ें »

ऊपर